Connect with us

प्रादेशिक

5 साल से पति-पत्नी चला रहे थे जिस्मफरोशी का धंधा, विदेशों से बुलाते थे लड़कियां

Published

on

पटना। बिहार की राजधानी पटना के पॉश इलाके पाटलिपुत्र कॉलोनी में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पुलिस ने पति-पत्नी को सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

जानकारी के मुताबिक यह रैकेट वॉट्सऐप के जरिए चालाया जाता था। इस मामले में पति-पत्नी के अलावा एक और शख्स को भी गिरफ्तार किया गया है।

सूचना के आधार पर पुलिस ने पाटलिपुत्र के ग्रैंड अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर डी-8 में छापेमारी की जिसके बाद इस रैकेट का भांडाफोड़ हुआ। पुलिस के मुताबिक रैकेट चलाने वाले व्हाट्सएप के जरिए लड़कियों की तस्वीरें ग्राहकों को भेजा करते थे और इसी फ्लैट में ग्राहकों को बुलाया जाता था।

सभी आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। पूछताछ के दौरान पुलिस तीनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह पिछले 5 साल से रैकेट चला रहे थे।

ग्राहकों से घंटे के हिसाब से 5 हजार रुपए लिए जाते थे जबकि दो घंटे के 10 हजार रुपए की मांग की जाती थी। आरोपियों ने बताया कि ग्राहकों की डिमांड पर दिल्ली, कोलकाता और बांग्लादेश से भी लड़कियां बुलाई जाती थीं।

प्रादेशिक

लखनऊः अमित शाह ने सीएए के समर्थन में की रैली, विपक्ष पर लगाया ये बड़ा आरोप

Published

on

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ में जनसभा को संबोधित किया। अमित शाह ने कहा कि CAA के खिलाफ विपक्ष भ्रम फैला रहा है और देश को तोड़ने का काम किया जा रहा है। इसी मुद्दे पर हमारी पार्टी ने जन जागरण अभियान करने का फैसला किया है।

अमित शाह ने विपक्ष पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि जब कश्मीर से लाखों कश्मीरी पंडितों को भगा दिया गया था, तो इनका मानवाधिकार कहां गया था। उन्होंने कहा कि जिसको विरोध करना है कर ले, लेकिन CAA वापस नहीं होगा।

गृह मंत्री ने कहा कि संसद के सत्र में जब हमारी सरकार बिल लाई तो राहुल बाबा एंड कंपनी विरोध में काउ-काउ कर रही थी। इस मुद्दे पर भ्रम फैलाया जा रहा है कि इस कानून से मुसलमानों की नागरिकता चली जाएगी। विपक्ष का कोई भी नेता चर्चा करने के लिए तैयार हो जाए तो हमारी ओर से स्वतंत्रदेव सिंह चर्चा के लिए तैयार हैं।

आपको बता दें कि देश के कई हिस्सों में सीएए को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इसके जवाब में बीजेपी ने सीएए के संबंध में जागरुकता अभियान शुरू करने का ऐलान किया और इसी के बाद अमित शाह के अलावा कई अन्य केंद्रीय मंत्री भी जनसभा आयोजित कर रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending