Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

पटना: अपराधियों के हौसले बुलंद, इंडिगो कंपनी के मैनेजर की गोली मारकर की हत्या

Published

on

पटना। पटना में इंडिगो कंपनी के मैनेजर रुपेश कुमार सिंह की बेख़ौफ़ अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी वहां से आराम से फरार हो गए। घटना मंगलवार शाम सवा सात बजे की है जब अपराधियों ने शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के पुनाईचक स्थित कुसुमविला अपार्टमेंट में घुसकर उन्हें छह गोली मारी। राजा बाजार स्थित अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में उन्होंने दम तोड़ दिया। घटना के वक्त अपार्टमेंट का गार्ड नहीं था। गोली मारने के बाद अपराधी आराम से फरार हो गए।

उधर, पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा ने बताया कि अब तक हत्या के कारणों का पता नही चल सका है। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। घटना की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया गया है।

इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। रुपेश कुमार सिंह का शव सारण जिले में उनके पैतृक गांव भेज दिया गया है। पटना प्रक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक संजय सिंह ने भी बताया कि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए विशेष जांच दल का गठन किया गया है। जांच दल में तेज तर्रार थाना प्रभारियों को रखा गया है। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी को खंगाल रही है।

करियर

सीएम योगी ने दिया स्टूडेंट्स को तोहफा, 16 फरवरी से मिलेगी मुफ्त कोचिंग सुविधा

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बसंत पंचमी पर प्रदेश के छात्र-छात्राओं को मुफ्त कोचिंग का तोहफा देने जा रहे हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयार कर रहे युवाओं को प्रदेश के सभी 18 मंडलों के मुख्यालय में मुफ्त कोचिंग की सुविधा देने की तैयारी चल रही है।

स्टूडेंट्स के लिए योगी सरकार की ओर से खोले जा रहे अभ्युदय कोचिंग सेंटर 16 फरवरी से शुरू हो जाएंगे। इस योजना के तहत मुफ्त कोचिंग के साथ ही स्टूडेंट्स को 5 महीने तक शिक्षण सामग्री के लिए 2 हजार रुपए भी दिए जाएंगे।  इस योजना की तैयारी सीएम योगी आदित्यनाथ की देख-रेख में हो रही है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के शुरुआती दौर में भारतीय प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा के लिए कोचिंग दी जाएगी। उसके बाद अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग शुरू की जाएगी। इसके साथ ही इंजीनियरिंग, मेडिकल और अन्य प्रवेश परीक्षाओं के लिए भी तैयारी निशुल्क कराई जाएगी। ताकि जिससे प्रतियोगी परीक्षाओं एवं प्रदेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए छात्रों को अपना जिला और प्रदेश न छोड़ना पड़े।

योजना को लागू करने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार हो रहा है। सॉफ्टवेयर के जरिए प्रदेश का युवा वर्ग सिविल सेवा परीक्षा की कोचिंग ले सकेगा। तैयारी के लिए उन्हें न तो अपने शहर से बाहर जाना पड़ेगा और न ही अधिक धन खर्च करना पड़ेगा। इसके अलावा हर साल पांच प्रतिभाओं को यूपी गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Continue Reading

Trending