Connect with us

नेशनल

मोदी सरकार के लिए बुरी खबर! बंगाल रैली में घायल हुए Modi समर्थक, महिलाएं भी शामिल

Published

on

पश्चिम बंगाल में पीएम नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान मची भगदड़। यही वजह थी कि उनको बीच मे अपना भाषण रोकना पड़ा। स्थानीय पुलिस अधिकारी ने समाचार एजेंसी को बताया कि इस दौरान कई महिलाएं और बच्चे घायल हुए।
ठाकुरनगर में जब मोदी मटुआ समुदाय की रैली को संबोधित कर रहे थे उसी वक्त बाहर खड़े उनके समर्थक अंदर आने की कोशिश करने लगे, जिसके बाद रैली मे भगदड़ मच गयी। मोदी ने लोगों से अपनी ही जगह पर बने रहने की अपील की, लेकिन उनकी अपील का किसी पर कोई असर नहीं पड़ा।

समर्थक मंच के सामने खाली जगह में कुर्सियां फेंकने लगे ताकि अंदरुनी हिस्से में जगह बन पाए जबकि यह जगह महिला समर्थकों के लिए निर्धारित थी।

ठाकुरनगर मे भाषण देते हुए मोदी ने ममता सरकार [दीदी] को बुझता हुआ दिया कहते हुए कहा कि “बुझता दिया ज़्यादा देर जलता नहीं है”।

आगे उन्होंने यह भी कहा कि मैं समझ सकता हूं कि क्यों दीदी (ममता बनर्जी) और उनकी पार्टी हिंसा, निर्दोष लोगों की हत्या में शामिल है। वह हमारे लिए आपके प्यार से घबरा गई हैं। उन्होंने कहा कि जुल्म और अत्याचार के बाद लोगों को अपने देशों अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश को छोड़कर भारत आना पड़ा। ऐसे लोगों को हिंदुस्तान में रहने का अधिकार मिलना चाहिए इसलिए हम नागरिकता का कानून लाए है।

नेशनल

मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता: पीएम मोदी

Published

on

नई दिल्ली। मुंबई में हुए आतंकी हमले की आज 12वीं बरसी है। 26 नवंबर 2008 को समुद्र के रास्ते पाकिस्तान से आए 10 आतंकवादियों ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ऐसा खूनी खेल खेला कि 200 के करीब मासूम जिंदगियां मौत के आगोश में समां गईं। पीएम मोदी ने इस दिन को याद करते हुए कहा कि 26/11 मुंबई हमले का जख्म भारत भूल नहीं सकता और आज का भारत नई नीति के साथ आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है।

पीएम मोदी ने गुजरात के केवड़िया में 80वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्‍मेलन के समापन सत्र को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि आज की तारीख देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक लोगों की मृत्यु हुई थी। अनेक देशों के लोग मारे गए थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “आज की तारीख, देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है। 2008 में पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था। इस हमले में अनेक भारतीयों की मृत्यु हुई थी। कई और देशों के लोग मारे गए थे। मैं मुंबई हमले में मारे गए सभी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं आज मुंबई हमले जैसी साजिशों को नाकाम कर रहे, आतंक को एक छोटे से क्षेत्र में समेट देने वाले, भारत की रक्षा में प्रतिपल जुटे हमारे सुरक्षाबलों का भी वंदन करता हूं।

Continue Reading

Trending