Connect with us

नेशनल

दिल्ली ट्रिपल मर्डर : परिवार का ही व्यक्ति निकला मां-बाप और बेटी का हत्यारा

Published

on

राजधानी दिल्ली के किशनगढ़ में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक बच्चा अपने ही पिता-मां और बहन की डांट से इस कदर आहत हुआ कि उसने तीनों को मौत के घाट उतार दिया। हत्या का आरोपी सूरज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसने रात में 3 बजे चाकू से तीनों की हत्या की थी।

इस घटना को अंजाम देने से पहले सबकुछ सामान्य था, सबने मिलकर खाना खाया था। रात को सूरज ने चाकुओं से 30 बार वार कर तीनों की हत्या कर दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक पहले सूरज ने सिर्फ अपने पिता की हत्या करने की योजना बनाई थी। लेकिन बाद में आजादी की राह में रुकावट बनने वाली मां और बहन को भी मार डाला।

जानकारी के मुताबिक, सूरज दो दिन पहले मेहरौली इलाके से कैंची और चाकू लाया था। हत्या के बाद उसने अपने कपड़े धोये थे। आरोपी ने बताया कि देर से घर आने और दोस्तों को घर लाने पर घरवाले, खास तौर से पिता नाराज़ होते थे। कई बार पिटाई भी कर देते थे. सूरज नशे का आदी था। वह 12 वीं में फेल हो चुका था।

सूरज ने कहानी बनाई कि हत्यारे दो थे। वे वारदात को अंजाम देने के बाद बालकनी से भाग गए। तीनों को बेरहमी से मारा गया था और मौका-ए-वारदात पर खून ही खून बिखरा हुआ था। मगर, बालकनी में कहीं भी खून के निशान नहीं थे। ऐसे में पुलिस को शक हुआ कि यह किसी बाहरी व्यक्ति का काम नहीं।

बाद में पुलिस की पूछताछ में सूरज टूट गया और उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। खौफनाक वारदात के बाद पुलिस का दावा है कि बच्चे ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

नेशनल

BIG BREAKING: लोकसभा चुनाव से पहले सलमान खुर्शीद ने कही ऐसी बात, सुनकर चौंक सकते हैं कई कांग्रेसी!

Published

on

सलमान खुर्शीद

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अब बहुत कम समय ही बचा है ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस चुनाव के मद्देनजर जोर शोर से तैयारियों में लग गई है।

लेकिन इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और यूपीए सरकार में विदेश मंत्री रहे सलमान खुर्शीद ने चौंकाने वाली बात कही है। खुर्शीद का मानना है कि अगले लोकसभा चुनाव में अकेले दम पर उनकी पार्टी का सत्ता में आना बेहद कठिन है। विपक्षी पार्टियों का गठबंधन कांग्रेस को रोकने के लिए नहीं बल्कि भाजपा को रोकने के लिए बनना चाहिए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए अन्य दलों को भी बलिदान और समझौते करने होंगे। कांग्रेस के सभी नेता अच्छी तरह से समझ गए हैं कि देश की सत्ता को बदलने के लिए गठबंधन बहुत जरूरी है।’

खुर्शीद ने आगे कहा, ‘गठबंधन के लिए जो भी बलिदान, समझौते या बातचीत जरूरी होगा, उसके लिए कांग्रेस तैयार है। यह तभी संभव है जब दूसरे दल भी इस तरह का सामंजस्य दिखाना होगा।’

उन्होंने कहा, ‘आज की स्थिति देखते हुए यह कठिन है। अगर हम अकेले दम पर सरकार बनाने का सोचते हैं, तो उसके लिए हमें पांच साल तक काम करना होगा क्योंकि पिछले तीन साल से कांग्रेस गठबंधन के लिए काम कर रही है। कांग्रेस अब अकेले चुनाव लड़ने के बारे में नहीं सोच सकती। इसके लिए हमें पांच साल तक लड़ना पड़ेगा।’

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending