Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

नेशनल

हैदराबाद में गरजे सीएम योगी, कहा- हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से होगा भाग्यनगर

Published

on

हैदराबाद। हैदराबाद के नगर निगम चुनाव में जीत के लिए भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। शनिवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां एक रोड शो किया, जिसमें हजारों की संख्या में लोगों ने योगी का स्वागत किया। इस मौके पर उन्होंने हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से भाग्यनगर करने की बात भी जोरदार तरीके से उठाई।

हैदराबाद के मलकाजगिरी मंडल में रोड शो के दौरान योगी ने कहा कि लोग मुझसे पूछते हैं कि क्या हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से भाग्यनगर किया जा सकता है तो मैं कहता हूं कि क्यों नहीं। उप्र में भाजपा के सत्ता में आने पर हमने फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या और इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया। ऐसे में हैदराबाद का भी नाम बदलकर फिर से भाग्यनगर किया जा सकता है।

इस मौके पर योगी ने ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम के बिहार के विधायक अख्तारुल इमान द्वारा शपथ ग्रहण के दौरान हिंदुस्तान शब्द का प्रयोग न करने की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि ये लोग हिंदुस्तान में रहते हैं, लेकिन जब हिंदुस्तान के नाम पर शपथ लेने की बात आती है तो वे पीछे हट जाते हैं। एआइएमआइएम का यही असली चेहरा है।

नेशनल

बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने राम मंदिर निर्माण के लिए दान किए 1 करोड़ रु

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने राम मंदिर निर्माण के लिए दान दिया है। गौतम गंभीर ने गुरुवार को राम मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपये की राशि दी है। इस मौके पर गौतम गंभीर ने कहा कि अंतत: एक पुराना मुद्दा खत्म हो गया है। इससे एकता और शांति का मार्ग प्रशस्त होगा। मैंने और मेरे परिवार ने एक छोटा से योगदान दिया है।

उन्होंने ये चेक दिल्ली में स्वामी अवधेशानंद को सौंपा। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह केवल एक मंदिर ही नहीं बल्कि करोड़ों भारतीयों की आस्था का प्रतीक है और इस शुभ काम में अपना सहयोग दे पाना मेरे लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है। एक शानदार राम मंदिर सभी भारतीयों का सपना रहा है। लंबे समय से अटके हुए इस मुद्दे का अब ख़त्म किया गया है।

गौरतलब है कि राम मंदिर के ट्रस्ट और विश्व हिन्दू परिषद की ओर से देशभर से चंदा इकट्ठा करने का अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत करीब पांच लाख परिवारों तक पहुंचने का लक्ष्य है जिससे ज्यादा से ज्यादा राशि एकत्रित की जा सके।

Continue Reading

Trending