Connect with us

प्रादेशिक

13वीं राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता में यूपी बना चैंपियन, जीते 83 पदक

Published

on

13वीं राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश के खिलाड़ियों ने 46 स्वर्ण, 19 रजत व 21 कान्स्य समेत कुल 83 पदक जीत कर पहला स्थान प्राप्त किया। जबकि तमिलनाडु की टीम 15 स्वर्ण 6 रजत व 3 कान्स्य कुल 24 पदक जीत कर दूसरा स्थान प्राप्त किया। लखनऊ के मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम ने विजेता खिलाड़ियों को पुरुस्कार वितरण किया।

यह जानकारी भारतीय कुंग फू संघ की महासचिव मंजू त्रिपाठी ने दी। उन्होंने बताया कि 13वी राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता के समापन समारोह के अवसर पर आज लखनऊ के मंडल आयुक्त मुकेश मेश्राम आईएएस के द्वारा प्रतियोगिता के प्रतिभागी खिलाड़ियों का पुरस्कार वितरण समारोह संपन्न हुआ। उन्होंने इस अवसर पर विजेता खिलाड़ियों को पदक एवं प्रमाण पत्र का वितरण किया।

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के अजय कुमार को प्रतियोगिता का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया वहीं पर उत्तर प्रदेश की लखनऊ की खिलाड़ी कुमारी संस्कृति त्रिपाठी को प्रतियोगिता का सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी घोषित किया गया। प्रतियोगिता का चैंपियन अवार्ड घोषित किया गया आकाश आनंद को और इस प्रकार से इस प्रतियोगिता के तीनों प्रतिष्ठित पुरस्कार उत्तर प्रदेश को प्राप्त हुए| इस प्रतियोगिता में 8 स्वर्ण 11 रजत व 8 कांस्य सहित कुल 27 पदक लेकर तीसरे स्थान पर महाराष्ट्र की टीम रही| तमिलनाडु की टीम 15 स्वर्ण 6 रजत व 3 कांस्य सहित कुल 24 पदक ले कर दूसरे स्थान पर और 46 स्वर्ण 19 रजत व 21 कांस्य सहित कुल 83 पदक लेकर पहले स्थान पर उत्तर प्रदेश की टीम रही।

प्रादेशिक

प्रयागराज में अतीक अहमद के आलीशान आशियाने को किया गया जमींदोज़

Published

on

प्रयागराज। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अतीक अहमद के अवैध साम्राज्य का खात्मा करके ही दम लेंगे। मंगलवार को अतीक अहमद के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई। प्रशासन ने उसके चकिया स्थित तीन मंजिला आलीशान मकान को बुलडोजर चलवाकर खंडहर में तब्दील करवा दिया। चार बीघा जमीन पर बने इस मकान के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई के दौरान पूरा इलाका छावनी में तब्दील रहा। मौके पर पुलिस के साथ ही पीएसी भी मौजूद रही।

पीडीए के जोनल अधिकारी सत शुक्ला के अनुसार, पूरा आवास अवैध रूप से निर्मित है, इसलिए पूरे आवास को गिराने की कार्रवाई की गई है। प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने चार माह पहले नोटिस दिया था। अतीक के आवास में दर्जनों कमरे बने होने की बात कही जा रही है।

पूर्व सांसद अतीक अहमद की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन और प्रयागराज प्राधिकरण के द्वारा अतीक अहमद की संपत्तियों को जब्त करने और ध्वस्त करने का काम लगातार जारी है।

माफिया अतीक अहमद के खिलाफ चल रही कार्रवाई के दौरान उसके वकील व परिजन घर में मौजूद थे। अतीक इस समय अहमदाबाद जेल में बंद है, जबकि उसका छोटा भाई पूर्व विधायक अशरफ बरेली जेल में है।

Continue Reading

Trending