Connect with us

खेल-कूद

क्रिकेट की इन खूबसूरत बलाओं ने बनाया न टूटने वाला रिकार्ड

Published

on

क्रिकेट की इन खूबसूरत बलाओं ने अपनी शानदार बल्लेबाजी से एक इतिहास लिख दिया। एक ऐसा इतिहास जिसका मिटना मुश्किल है। 21 साल पुराने दुनिया का सबसे बड़े स्कोर का रिकार्ड तोड़ दिया। इन दोनों क्रिकेट की हसीनाओं ने अपनी बल्लेबाजी से स्टेडियम में बैठे दर्शकों का मन मोह लिया।

इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर का रिकार्ड न्यूजीलैंड के ही नाम था। किवी महिलाओं ने पाकिस्तान के खिलाफ 29 जनवरी 1997 को क्राइस्टचर्च में पांच विकेट के नुकसान पर 455 रन बनाए थे।

न्यूजीलैंड महिला क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को आयरलैंड के खिलाफ खेले जा रहे वनडे मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट के नुकसान पर 490 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया जो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पुरुष और महिला क्रिकेट में सर्वोच्च स्कोर और विश्व रिकार्ड भी है।

इस रिकार्ड को बनाने में किवी टीम कप्तान सुजी बेट्स और मैडी ग्रीन की जोड़ी ने यह कमाल किया है। कप्तान सुजी बेट्स ने सबसे ज्यादा 151 रन बनाए जिसके लिए उन्होंने 94 गेंदों का सामना किया और 24 चौकों के अलावा दो छक्के लगाए।

मैडी ग्रीन ने 121 रनों की पारी खेली जिसमें उन्होंने 15 चौके और एक छक्का लगाया। अपनी शतकीय पारी में उन्होंने 77 गेंदें खेलीं। इन दोनों के अलावा जदेस वाकिसन ने 62 और अमेलिया केर ने 81 रनों की अर्धशतकीय पारियां खेलीं। दोनों नाबाद पवेलियन लौटीं।

पुरुष क्रिकेट में एक पारी में सर्वोच्च स्कोर का रिकार्ड इंग्लैंड के नाम है जिसने 30 अगस्त 2016 को पाकिस्तान के खिलाफ नॉटिंघम में तीन विकेट के नुकसान पर 443 रनों का स्कोर बनाया था।

खेल-कूद

श्रीसंत से आजीवन प्रतिबंधन हटा, इस दिन से खेल सकेंगे क्रिकेट

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेटर एस. श्रीसंत को बड़ी राहत दी है। बीसीसीआई ने श्रीसंत पर लगे आजीवन प्रतिबंध को हटकर उनकी सजा 7 साल कर दी है।

इसी के साथ 13 सितंबर 2020 को श्रीसंत पर लगा बैन खत्म हो जाएगा। बीसीसीआई की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि श्रीसंत पर लगे प्रतिबंध को घटाकर सात साल करने का फैसला किया गया है।

गौरतलब है कि आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग में नाम आने पर श्रीसंत पर बीसीसीआई ने आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। 13 सितंबर 2013 को बोर्ड द्वारा आजीवन बैन लगाया था।

इससे पहले मार्च 2019 को श्रीसंत पर सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में आजीवन प्रतिबंध हटा दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि बीसीसीआई श्रीसंत पर अपने लगाए प्रतिबंध पर फिर से विचार करे. लाइफटाइम बैन ज्यादा है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending