Connect with us

नेशनल

महिलाओं को घूरते बस में करने लगा हस्तमैथून, 15 दिन पहले दिखाया था प्राइवेट पार्ट

Published

on

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में एक व्यक्ति के चलती बस में घिनौनी हरकत किए जाने की घटना का पता चला है। इस व्यक्ति ने शनिवार को कोलकाता में बस में सफर के दौरान दो महिलाओं को बुरी नीयत से घूरना शुरू किया। इस दौरान वह हस्तमैथुन भी करने लग गया। इस पूरी घटना को महिलाओं ने अपने मोबाइल फोन में कैद कर लिया।

यही नहीं, वीडियो को सोशल मीडिया पर भी पोस्ट कर दिया। सोशल मीडिया पर इस वीडियो के आने पर हरकत में आई पुलिस ने आरोपित व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया।

कोलकाता पुलिस ने अपने फेसबुक पेज पर कहा कि आरोपित व्यक्ति पेशे से हॉकर है, जिसे श्यामपुकुर पुलिस स्टेशन क्षेत्र में गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने इस आरोपित व्यक्ति की तस्वीर साझा करते हुए लिखा है कि घटना के कुछ ही घंटों के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह व्यक्ति हुबली जिले का रहने वाला है। इस महिला ने जब सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो साझा किया तो पुलिस ने आरोपित की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया।

वीडियो में देखा जा सकता है कि एक बूढ़ा आदमी बस के अंदर अश्लील इशारे करता है और हस्तमैथुन करने लग जाता है। पीड़ित महिला ने अपनी पोस्ट में कहा कि 15 दिन पहले भी उसे इसी तरह की घटना से दो-चार होना पड़ा था। यह व्यक्ति अपनी पैंट उतारकर अपना प्राइवेट पार्ट दिखाने लगा था। पीड़िता ने बताया कि जब हमने इस हरकत का विरोध किया और कंडक्टर को इसपर कार्रवाई करने को कहा तो उसने हमारी बात को नजरअंदाज कर दिया।

नेशनल

पीएम मोदी का ट्वीट, ये वक्त शांति बरतने का, अफवाहों से बचें

Published

on

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देश के कई जगहों पर हो रहे हिंसक प्रदर्शन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान आया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर देश में शांति और हिंसक प्रदर्शन न करने को कहा है। प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘बहस, चर्चा और असंतोष लोकतंत्र का हिस्सा है, लेकिन सार्वजनिक प्रॉपर्टी को नुकसाना पहुंचाना और आम जीवन को प्रभावित करना लोकतंत्र का हिस्सा नहीं है।

‘प्रधानमंत्री ने लिखा कि ये वक्त शांति बरतने और एकता दिखाने का है। मैं सभी से अपील करता हूं कि ऐसे वक्त में किसी भी तरह की अफवाह और झूठ से बचें।

पीएम ने लिखा, ‘नागरिकता संशोधन एक्ट, 2019 संसद के दोनों सदनों के द्वारा पास किया गया है। बड़ी संख्या में राजनीतिक दलों और सांसदों ने इस बिल का समर्थन किया है। ये एक्ट भारत की पुरानी संस्कृति जो कि भाईचारा सिखाती है, उसका संदेश देती है।’

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending