Connect with us

मुख्य समाचार

सत्यपथ हस्ताक्षर इंडिया ने आयोजित किया सम्‍मान समारोह

Published

on

सत्यपथ हस्ताक्षर इंडिया 2016, सम्‍मान समारोह, जय शंकर प्रसाद सभागार

Screen Shot 2016-06-10 at 9.23.07 PM

लखनऊ। सत्यपथ हस्ताक्षर इंडिया 2016 सम्मान का आयोजन जय शंकर प्रसाद सभागार में किया गया। आयोजन का उद्देश्य उन लोगो को सम्मानित करना था जो अपने फन में माहिर है। सम्मानित लोगो में फ़िल्म और रंगगमंच में नए प्रयोग के लिए प्रसिद्ध रंजीत कपूर थे जिन्होंने हल्ला बोल, बैंडिट, जाने भी दो यारो, लज्जा जैसी तमाम फिल्में लिखीं वहीं हरीश कपूर को समाज सेवा में योगदान के लिये सम्मानित किया गया।

साहित्य जगत में लखनऊ का नाम रोशन कर रहे पंकज प्रसून को सम्‍मानित किया गया। 2 जनवरी 84 को रायबरेली के छोटे से गाँव लोहड़ा में जन्मे इस साहित्यकार ने अपनी चमक पूरे देश में बिखेरी है। पिछले दस वर्षों से देश की प्रतिष्ठित पत्र पत्रिकाओं में व्यंग्य लेखन के साथ कई बड़े मंचों से व्यंग्यपाठ लगातार कर रहे हैं।

विज्ञान एवम् प्रौद्योगिकी मंत्रालय भारत सरकार ने छपवाया जो पूरे देश में निःशुल्क वितरित की जा रही है।इस उपलब्धि के लिए केंद्र सरकार उनको समानित कर कर चुकी है। डालीगंज की तंग गलियों में रहने वाले कलाकार अंसरुदीन ने शहर की कई प्रमुख इमारतों को संवारने का काम किया है, जिसमे हाल ही मे लमार्टिनियर कालेज ब्वॉज की दो सौ साल पुरानी इमारत की डिज़ाइन जो बिल्कुल जर्जर हो चुकी थी उस अपनी टीम के साथ दिन रात की मेहनत से सजा संवार रहे है।

उनके रेस्टोरेशन वर्क के लिए फ़्रांस सरकार उन्हें सम्मानित करने की घोषणा कर चुकी है। है। संस्था ने अंसरुद्दीन को हस्ताक्षर इंडिया सम्मान प्रदान किया। आईपीएस राजेश पान्डेय , इंस्‍पेक्‍टर सत्या सिंह, अशोक वर्मा सीओ हज़रतगंज एवं उनकी टीम साइबर सेल, विक्रमजीत सिंह रूपराय ( फोटोग्राफी), तूलिका बनर्जी (आरजे  आकाशवाणी) एसएसपी लखनऊ मंजिल सैनी (विशेषपुरस्कार हस्ताक्षर इंडिया) को सम्‍मानित किया गया

सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि सेवानिवृत आईपीएस एनके श्रीवास्तव, वरिष्‍ठ पत्रकार चंद्रसेन वर्मा, नवलकान्त सिन्हा, शलभ मणि त्रिपाठी सहित बड़ी संख्‍या में शहर के संभ्रांत लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम का सफलता पूर्वक आयोजन संस्‍था के संस्थापक मुकेश वर्मा, संयोजक नीरज मिश्रा, संरक्षक संजय गुप्ता द्वारा किया गया।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

नेशनल

सीएबी पर पाकिस्तान की भाषा बोल रही कांग्रेस: मोदी

Published

on

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कांग्रेस और कुछ विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा और कहा कि ये लोग नागरिकता (संशोधन) विधेयक, 2019(सीएबी) को लेकर पाकिस्तान की भाषा में बात कर रहे हैं। मोदी ने यह बयान संसद के पुस्तकालय भवन में भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) की संसदीय दल की बैठक में दिया।

बैठक के बाद दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने पत्रकारों से कहा, “लोग संसद में सीएबी पर कांग्रेस के रुख पर अलग-अलग राय दे रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने संसदीय दल की बैठक में इसे एक वाक्य में स्पष्ट कर दिया। उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियां पाकिस्तान की भाषा में बात कर रही हैं।”

उन्होंने कहा, “यहां तक कि पूर्णविराम और कामा भी समान है। हमें सीएबी विधेयक के बारे में भारत के लोगों को जानने देना चाहिए। प्रधानमंत्री का एक वाक्य का बयान यह साबित करने के लिए काफी है कि कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस की सोच क्या है।” इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने नागरिकता(संशोधन) विधेयक, 2019 को ‘नरेंद्र मोदी-अमित शाह सरकार द्वारा पूर्वोत्तर में जातीय सफाया करने का प्रयास बताया’ और कहा कि यह लोगों पर ‘आपराधिक हमला’ है।

राहुल ने ट्वीट किया, “सीएबी मोदी-शाह सरकार द्वारा पूर्वोत्तर में जातीय सफाये का प्रयास है। यह पूर्वोत्तर पर, वहा के लोगों के जीवन के तौर-तरीके पर और भारत के विचार पर एक आपराधिक हमला है। मैं पूर्वोत्तर के लोगों के साथ खड़ा हूं और उनकी सेवा में तत्पर हूं।” मोदी लोकसभा में इस विधेयक के पारित होने के दो दिन बाद यहां भाजपा संसदीय दल की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

सीएबी के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से उत्पीड़न झेल कर यहां आए हिंदुओं, ईसाइयों, सिखों, पारसियों, जैनियों और बौद्धों को भारतीय नागरिकता दिए जाने का प्रावधान है। विपक्ष ने विधेयक को ‘असंवैधानिक’ बताकर इसका विरोध किया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending