Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

बीजेपी नेता को जान से मारने की धमकी देने वाला शख्स हुआ गिरफ्तार

Published

on

नई दिल्ली। भाजपा नेता और पूर्व सांसद विनय कटियार को जान से मारने की धमकी देने वाले शख्स को उप्र पुलिस ने बरेली जिले के नवाबगंज इलाके से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार शख्स का नाम मकसूद है।

विनय कटियार के सुरक्षा प्रभारी उप्र पुलिस के इंस्पेक्टर श्योराज सिंह ने 12 दिसंबर को नई दिल्ली जिले के नार्थ एवेन्यू थाने में इस बाबत लिखित शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायत में कहा गया था, “11 दिसंबर को आधी रात के वक्त पूर्व सांसद विनय कटियार जब दिल्ली में सरकारी बंगले में थे, उसी वक्त उनके निजी मोबाइल पर अनजान नंबर से कॉल आई।”

दिल्ली पुलिस को मिली शिकायत के मुताबिक, “अनजान शख्स ने पूर्व सांसद के साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया। विनय कटियार ने जब अनजान शख्स से उसकी पहचान पूछी तो वह बोला कि ‘जंतर मंतर से बोल रहा हूं।

तेरे अब बहुत कम दिन बचे हैं। मार डालूंगा’।” मामला चूंकि भाजपा के एक कद्दावर नेता को जान से मारने की धमकी से जुड़ा था, लिहाजा आधी रात को ही दिल्ली पुलिस के तमाम आला अफसरान घटनास्थल पर पहुंच गए।

नई दिल्ली जिले के डीसीपी डॉ. ईश सिंघल ने शनिवार को आईएएनएस से आरोपी की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। डीसीपी ने आईएएनएस से कहा, “बरेली पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। ज्यादा जानकारी जुटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। गिरफ्तार किए गए शख्स की तलाश शायद यूपी पुलिस को किसी अन्य मामले में भी थी।”

प्रादेशिक

11 महीने बाद खुले स्कूल, सीएम योगी ने बच्चों को दी चॉकलेट

Published

on

लखनऊ। कोरोना वायरस की वजह से पिछले 11 महीनों से बंद यूपी के स्कूल आज यानी 1 मार्च से खुल गए। इस दौरान कई स्कूलों में केक काटा गया तो कई जगहों पर बच्चों पर पुष्प वर्षा की गई।

फिर से स्कूल खुलने की खुशी में कक्षाओं को गुब्बारों से सजाया गया था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को लखनऊ के नरही स्थित सरकारी स्कूल पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का भी पालन किया गया। ध्यान रखा गया कि सभी बच्चे सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर ही बैठें। सीएम योगी ने बच्चों तो चॉकलेट भी दी।

बता दें कि लगभग एक साल बाद आज से पहली से पांचवीं तक के स्कूल खुले हैं तो कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल है। सरकारी स्‍कलों में पहला दिन उत्‍सव के रूप में मनाया जा रहा है। इस संबंध में शासन की ओर से विशेष गाइडलाइन जारी की गई थी।

Continue Reading

Trending