Connect with us

मुख्य समाचार

#भारत, नेपाल के बीच 9 समझौतों पर हस्ताक्षर

Published

on

भारत नेपाल संबंध, 9 समझौतों पर हस्ताक्षर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके नेपाली समकक्ष के. पी. शर्मा ओली, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

नई दिल्ली| नेपाल और भारत के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके नेपाली समकक्ष के. पी. शर्मा ओली के नेतृत्व में शनिवार को प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता में नौ समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर बताया, “भारत और नेपाल ने साझेदारी और विकास के लिए नौ समझौतों पर हस्ताक्षर किए।” भारत और नेपाल के बीच शनिवार को हुए नौ समझौतों में- भूकंप के बाद पुनर्निर्माण के लिए 25 करोड़ डॉलर के भारतीय अनुदान के उपयोग, नेपाल के तराई क्षेत्र में सड़क के बुनियादी ढांचे के सुधार, सांस्कृतिक साझेदारी, काकरबित्ता बांग्लाबांध कॉरिडोर के माध्यम से नेपाल और बांग्लादेश के बीच पारगमन, विशाखापत्तनम बंदरगाह का संचालन और विशाखापत्तनम से तथा यहां के लिए रेल परिवहन का संचालन शामिल है।

ओली शुक्रवार को छह दिवसीय भारत दौरे पर यहां पहुंचे। यह 2011 के बाद किसी नेपाली प्रधानमंत्री का पहला द्विपक्षीय भारत दौरा है। इससे पहले 2011 में बाबूराम भट्टराई ने भारत का दौरा किया था। वर्ष 2014 में नेपाल के तत्कालीन प्रधानमंत्री सुशील कोइराला, नरेंद्र मोदी के शपथ-ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए भारत आए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगस्त 2014 में नेपाल का द्विपक्षीय दौरा किया था, जो 17 वर्षो में किसी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला नेपाल दौरा था।

मोदी ने इसके बाद नवम्बर 2014 में काठमांडू में आयोजित दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) सम्मेलन में शिरकत की थी। इससे पहले शनिवार को ओली का राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत किया गया, जहां उन्हें ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया। इसके बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ओली से मुलाकात की। स्वरूप के मुताबिक, इस मुलाकात के दौरान ओली ने सुषमा से कहा कि भारत और नेपाल के बीच स्वाभाविक और सांस्कृतिक संबंध हैं।

उत्तराखंड

कोरोना की बढ़ती रफ्तार को काबू में लाने के लिए सीएम त्रिवेंद्र ने की बड़ी बैठक

Published

on

By

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने श्रीनगर गढ़वाल में राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर में कोविड 19 को लेकर अहम बैठक की है।

मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेज के कोराना सेन्टर की व्यवस्थाओं और अब तक हुए टेस्ट की स्थिति को भी जाना। उन्होंने राज्य में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव केस को लेकर चिन्ता जताई और सभी अधिकारियों को मुस्तैदी से कार्य करने के निर्देश दिए हैं।

दो महीने बाद नए नियमों के साथ देश में हवाई सेवा अब फिर से शुरू

मुख्यमंत्री के साथ राज्य मन्त्री धन सिंह रावत भी बैठक में मौजूद रहें, वहीं बैठक में जिलाधिकारी पौड़ी समेत जिला प्रशासन के महत्वपूर्ण अधिकारी और मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य और डॉक्टर मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending