Connect with us

नेशनल

कश्मीर से कन्याकुमारी तक बकरीद और सावन की धूम

Published

on

नई दिल्ली। देश में आज दो खास मौके है एक तो सावन का अंतिम सोमवार है तो दूसरा ईद-उल-अजहा का। देश भर में शिव मंदिरों और मस्जिदों में सुबह से ही पूजा-पाठ करने और नमाज़ अदा करने वालों की भीड़ देखी जा सकती है। आज हिंदु और मुस्लिम दोनो ही समुदाय के लोग अपने अपने त्योहारों के रंग में रंगे नज़र आ रहे है। बाज़ारों में सेवइँयों और बेल पत्र की दुकाने कल ही से बाज़ारों की शोभा बढ़ा रही है। शिवालयों में लोग जल चढ़ाकर जहां भगवान शिव का जलाभिषेक कर रहे है तो वही लोग मस्जिदो के बाहर एक-दूसरे से गले मिलकर एक दूसरे को ईद-उल-अजहा की मुबारकबाद दे रहे है ।

कुछ ऐसा ही माहौल आज कश्मीर में भी देखने को मिल सकता है। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को बताया कि सोमवार को ईद-उल-अजहा के मौके पर कश्मीर में लोगों को मस्जिदों में नमाज पढ़ने की इजाज़त दी जाएगी। मोबाइल और लैंडलाइन फोन पर लगी रोक भी जल्द ही हटा ली जाएगी। आगे अधिकारी ने यह भी बताया कि सरकार की पहली प्राथमिकता जम्मू-कश्मीर में शांति बनाए रखना और किसी उपद्रव और जानमाल की हानि को रोकना है। जिला प्रशासन लगातार हालात की समीक्षा कर रहे हैं और वे लोगों को ईद पर मस्जिद में नमाज पढ़ने की सुविधा देंगे। प्रशासन ने शुक्रवार को लोगों को स्थानीय मस्जिदों में नमाज पढ़ने की इजाजत दी थी। हालांकि, घाटी में बड़ी संख्या में लोगों के एक स्थान पर जमा होने की इजाज़त नहीं दी गई।

इसके बाद संचार संसाधनों पर रोक के बारे में बताते हुए कहा कि यह अस्थायी उपाय है, ताकि अफवाहों और गलत सूचनाओं को फैलने से रोका जा सके। उनका कहना यह भी थी कि‘सरकार जमीनी हालात को लेकर संवेदनशील है और लोगों को कम से कम असुविधा हो इसका ध्यान रख रही है। रोजाना या हर दूसरे दिन प्रतिबंधों में ढील दी जा रही है। हम फोन पर से रोक हटाने का फैसला जितनी जल्दी संभव होगा, लेंगे’। अधिकारी ने कहा कि सभी फैसले केंद्र सरकार की ओर से नहीं लिए जा रहे हैं। स्थानीय प्रशासन अपने स्तर पर जरूरत के हिसाब से कानून- व्यवस्था को लेकर फैसला ले रहा है।

नेशनल

विदेश जा सकेंगे रॉबर्ट वाड्रा, अदालत ने दी इजाजत

Published

on

दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को व्यापारी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा को इलाज और व्यापार के सिलसिले में स्पेन जाने की अनुमति दे दी।

अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय की ओर से इस संबंध में जवाब दाखिल करने के बाद विदेश जाने संबंधी वाड्रा की याचिका पर सुनवाई की, जिसके बाद उन्हें विदेश जाने की इजाजत दी गई।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति वाड्रा ने शनिवार को दो हफ्तों के लिए स्पेन जाने की इजाजत के लिए अदालत में एक याचिका दाखिल की थी। अदालत ने इसके बाद इसपर ईडी से प्रतिक्रया दाखिल करने को कहा था।

वाड्रा 12, ब्रायंस्टोन स्क्वे यर स्थित लंदन में एक संपत्ति को खरीदने को लेकर वित्तीय जांच एजेंसी से धनशोधन मामले का सामना कर रहे हैं। संपत्ति की कीमत 19 लाख पाउंड है। संपत्ति कथित रूप से वाड्रा की बताई जा रही है। वह फिलहाल अग्रिम जमानत पर हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending