Connect with us

प्रादेशिक

एक्ट्रेस के बन गए थे बाबा से संबंध, छोटे भाई ने उतारा मौत के घाट

Published

on

नई दिल्ली। एक्ट्रेस आंचल यादव की हत्या की गुत्थी सुलझ गई है। पुलिस ने इस मामले में बड़ा खुलासा करते हुए दावा किया एक्ट्रेस के छोटे भाई सिद्धार्थ ने अपनी मां के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस के मुताबिक आंचल महत्वकांक्षी थी। इसके लिए वो कई बाबाओं के चक्कर लगाती थी। इसी दौरान एक बाबा से उसके संबंध भी बन गए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 25 मार्च को आंचल के मोबाइल पर आई कॉल के बाद गुस्से से गुस्से में बाहर चली गई थी। घर से निकलने के कुछ देर बाद पुलिस ने उसकी लाश बरामद की थी।

दुर्ग रेंज के आईजी हिमांशु गुप्ता के मुताबिक घटना के दिन आंचल और उसके भाई सिद्धार्थ के बीच झगड़ा हुआ था। सिद्धार्थ को आंचल के रहन-सहन और पहनावे को लेकर आपत्ति थी।

झगड़े के दौरान आंचल ने अपने भाई सिद्धार्थ को कुत्ता कहा था। बस यही बात उसे नागवार गुजरी. वो गुस्से में पागल हो गया और उसने आंचल को थप्पड़ लगा दिए। आंचल भी कम नहीं थी।

उसने अपने बैग से एक चाकू निकाला और सिद्धार्थ पर वार कर डाले। सिद्धार्थ ने आचंल से चाकू छीनकर उसे ही मार दिया और फिर उसका गला तब तक दबाया, जब तक कि वो मर नहीं गई।

आईजी ने बताया कि आंचल अक्सर सिद्धार्थ की बेइज्जती करती थी। उसे कुत्ता कहती थी। उसकी मां ममता भी उससे परेशान थी। आईजी ने बताया कि कत्ल के वक्त आंचल की मां ममता भी घर में ही मौजूद थी।

जब वो आचंल के कमरे में आई तो देखा कि वो लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़ी थी। पास में भाई सिद्धार्थ बैठा था। उसने अपनी मां को पूरी घटना के बारे में बताया। पूरी बात जानने के बाद मां ने सुबूत मिटाने में सिद्धार्थ की मदद की।

प्रादेशिक

एनडी तिवारी के बेटे रोहित की हुई थी हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि शेखर तिवारी की मौत प्राकृतिक नहीं थी।

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद दिल्ली क्राइम ब्रांच ने अज्ञात के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया है।

रिपोर्ट सामने आने के बाद शुक्रवार को क्राइम ब्रांच की टीम और वरिष्ठ अधिकारी डिफेंस कॉलोनी स्थित रोहित के घर पर पहुंचे थे। टीम रोहित के घर की जांच से मौत की वजह पता लगाने की कोशिश कर रही है।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि स्व. एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में ‘अप्राकृतिक मौत’ की बात सामने आई है। अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (हत्या का मामला) के तहत मामला दर्ज किया गया।

आपको बता दें कि मंगलवार को रोहित शेखर तिवारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। तबीयत खराब होने पर शाम करीब 4 बजकर 41 मिनट पर साकेत स्थित मैक्स अस्पताल ले जाया गया था।

जांच के बाद डॉक्टरों ने रोहित को मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों का कहना है कि 40 वर्षीय रोहित की मौत अस्पताल में लाने से पहले ही हो गई थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending