Connect with us

नेशनल

अयोध्या में 70 हजार जवान तैनात, शाम को पहुंचेंगे शिवसेना प्रमुख

Published

on

अयोध्या में हिंदू संगठनों का जमावड़ा लगना शुरु हो गया है। आज शिवेसना के अयोध्या में दो कार्यक्रम होंगे। बता दें कि आज होने वाले आशीर्वाद कार्यक्रम को लेकर शिव सैनिकों की पहली खेप कल शुक्रवार रात ही अयोध्या पहुंच गयी। जानकारी के मुताबिक अब तक महाराष्ट्र से करीब 15,000 लोग अलग-अलग तरीकों से अयोध्या पहुंचे हैं।

शिवसेना ने अपने इस कार्यक्रम के लिए थाने और नासिक से कुल 5 ट्रेनों को बुक किया है। हर एक ट्रेन में 22 डिब्बे स्लीपर के और दो डिब्बे एसी के लगाए गए हैं। ट्रेन में खाने-पीने की व्यवस्था के साथ डॉक्टर और सभी मेडिकल किट उपलब्ध कराई गई हैं।  इस बीच उद्धव ठाकरे मुंबई स्थित अपने आवास मातोश्री से अयोध्या के लिए निकल गए हैं. शाम को उद्धव सरयू तट पर आरती करेंगे।

आपको बता दें, 25 नवंबर को अयोध्या में होने वाली धर्मसभा को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ा बयान दिया है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी और उससे जुड़े संगठन किसी भी हद तक जा सकते हैं, लिहाजा अयोध्या में सेना लगाकर सुरक्षा पुख्ता की जाए।

आपको बता दें कि आरएसएस और विहिप के आह्वान पर रविवार 25 नवंबर को अयोध्या में विशाल धर्म सभा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें लाखों लोगों के इकट्ठा होने की उम्मीद जताई जा रही है।

IMAGE COPYRIGHT : GOOGLE

बता दें कि मध्य प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अखिलेश यादव लगातार चुनावी रैली कर रहे हैं। अखिलेश आज मध्यप्रदेश के पन्ना में चुनावी रैली को संबोधित करते पहुंचे थे। रैली के बाद मीडिया से बातचीत में अखिलेश कहा कि यूपी का माहौल खराब है, खास करके अयोध्या जिले का। लिहाजा इस पर सुप्रीम कोर्ट को संज्ञान लेना चाहिए।

नेशनल

मस्जिद को तोड़ने पर अंदर मिला प्राचीन मंदिर? सच्चाई जानें यहां…

Published

on

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। तस्वीर को लेकर दावा किया जा रहा है कि कर्नाटक की एक मस्जिद को सौंदर्यीकरण के लिए गिराए जाने के बाद खुदाई के दौरान वहां से जैन मंदिर मिला है।

इस तस्वीर को सच मानकर कुछ लोग इसे तेजी से आगे फॉर्वर्ड कर रहे हैं। जब ये तस्वीर हमारे सामने आई तो हमने भी इसकी जांच करने का फैसला किया।

हमने जानना चाहा कि फोटो के साथ किया जा रहा दावा क्या सच में सही है या फिर ये फेक न्यूज है। इस फोटो को जब हमने गूगल रिवर्स टूल की मदद से खोजना शुरू किया तो पाया कि मस्जिद के नीचे से जैन मंदिर मिलने का दावा पूरी तरह से गलत है। यह तस्वीर मध्य प्रदेश के ग्वालियर में गोपाचल पर्वत पर मशहूर पर्यटन स्थल ग्वालियर किला की है।

कर्नाटक रायचूर मे रोड सौंदर्यीकरणकरने के लिये मस्जिद गिराई उस मस्जिद के नीचे निकला जैन मंदिर 👇👇🏻🤔

Bhavesh Haria ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಶನಿವಾರ, ಜೂನ್ 1, 2019

इसी पर्वत को तराशकर हजारों जैन मूर्तियां बनाई गई हैं। अगर आपके भी पास इस तरह की तस्वीर आई है तो आप आगे इसे फॉर्वर्ड न करें क्योंकि तस्वीरों में किया जा रहा दावा पूरी तरह से गलत है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending