Connect with us

प्रादेशिक

भिलाई स्टील प्लांट की गैस पाइपलाइन में हुआ ब्लास्ट, 9 की मौत

Published

on

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में स्थित भिलाई स्टील प्लांट में मंगलवार को जोरदार धमाका हुआ, जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि यह ब्लास्ट गैस पाइपलाइन में हुआ है। हादसे में 11 लोग गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आपको बता दें कि जिस प्लांट में यह हादसा हुआ है, वह राजधानी रायपुर से महज 30 किमी की दूरी पर स्थित है और इसका संचालन स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा किया जाता है। प्लांट में धमाके के बाद भीषण आग लग गई।

बताया जा रहा है कि स्टील प्लांट में स्थित गैस पाइपलाइन फटने से ये हादसा हुआ है। प्लांट के भीतर 11 नंबर की कोक ओवन है, जहां गैस पाइपलाइन की रिपेयरिंग का काम चल रहा था। वहीं धमाका हुआ। मौके पर बचाव दल के कर्मी मौजूद हैं। हालात पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है।

Image CopyRight : Google

प्रादेशिक

दिल्ली की सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, तिलक लगाकर हुआ स्वागत

Published

on

नई दिल्ली। अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप मंगलवार को दिल्ली के सरकारी स्कूल पहुंची। स्कूल पहुंचने पर उनका स्वागत भारतीय परंपरा के अनुसार तिलक लगाकर और आरती उतारकर किया गया।

बता दें कि इस कार्यक्रम में अमेरिका की प्रथम महिला अकेले पहुंची हैं, वहीं डोनाल्ड ट्रंप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय वार्ता कर रहे हैं।

मेलानिया इस सरकारी स्कूल के बच्चों के साथ वक्त बिताएंगी इस दौरान उनकी दिलचस्पी इस चीज को देखने में रहेगी कि केजरीवाल सरकार की ये हैप्पीनेस क्लास बच्चों को कैसे टेंशन फ्री रखती है।

बता दें कि दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने अपने स्कूलों में हैप्पीनेस पाठ्यक्रम लागू किया है। इसके तहत नर्सरी से आठवीं तक के बच्चों को रोजाना पहले पीरियड में यानी कि लगभग 40 मिनट में हैप्पीनेस पर ध्यान दिया जाता है।

हैप्पीनेस क्लास में बच्चों से योग और ध्यान करवाया जाता है। उन्हें ज्ञानवर्धक, मनोरंजक और नैतिकता संबंधित कहानियां सुनाई जाती हैं।

हैप्पीनेस क्लास का उद्देश्य नर्सरी से कक्षा 8 तक के बच्चों को भावनात्मक रूप से मजबूत करना है। इस क्लास में बच्चों के संपूर्ण व्यक्त्तिव विकास पर जोर दिया जाता है।

इसके लिए उन्हें मेडिटेशन, योग सिखाया जाता है। हैप्पीनेस करिकुलम कोर्स में बच्चों को कहानियों के जरिए अच्छी बातें सिखाई जाती हैं। उनके नैतिक शिक्षा पर ध्यान दिया जाता है।

विशेषज्ञों का मानना है कि इस क्लास के जरिए बच्चों में गुस्सा, ईर्ष्या और नफरत जैसी नकारात्मक भावनाओं को कम करना है और मित्रता, परोपकार जैसी भावनाएं बच्चों में विकसित करना है।

 

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending