Connect with us

प्रादेशिक

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा का घोषणापत्र जारी, किसानों को चीन व इजरायल घुमाने का वादा

Published

on

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को अपना 60 पन्नों का घोषणापत्र जारी किया, जिसमें गरीब महिलाओं को स्मार्टफोन, स्नातक में दाखिला लेने वाले छात्रों को लैपटॉप और किसानों को चीन व इजरायल घुमाने का वादा किया गया है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और भ्रष्टाचार के मामले में जेल तक का अनुभव ले चुके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी.एस. येदियुरप्पा ने कहा, “हमारे घोषणापत्र का उद्देश्य कर्नाटक की जनता की आकांक्षाओं को पूरा करना है। हमने अपना घोषणापत्र किसानों, महिलाओं, युवाओं और पिछड़े वर्ग की भलाई को ध्यान में रखकर बनाया है।”

पूर्व मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा, “गरीबी रेखा के नीचे रहने वाली सभी महिलाओं को ‘मुख्यमंत्री स्मार्टफोन योजना’ के तहत स्मार्टफोन दिया जाएगा तथा स्नातक में प्रवेश पाने वाले सभी छात्रों को लैपटॉप आवंटित किया जाएगा।”

घोषणापत्र के अनुसार, “कृषि की सर्वश्रेष्ठ तकनीक का अध्ययन करने के लिए प्रत्येक वर्ष एक हजार किसानों को ‘मुख्यमंत्री कृषि फेलोशिप’ के तहत चीन और इजरायल जैसे देशों की यात्रा कराई जाएगी।”

घोषणापत्र में राष्ट्रीयकृत और सहकारी बैंकों से लिए गए एक लाख तक का कृषिऋण मंत्रिमंडल की पहली बैठक में ही माफ करने की घोषणा की गई है। राज्य में विधानसभा चुनाव 12 मई को होने हैं।

पार्टी ने कहा कि वह 10,000 रुपए के प्रत्यक्ष आय सहयोग के तहत बंजर भूमि के 20 लाख छोटे और मामूली किसानों की सहायता करेगी।

60 पन्नों के घोषणापत्र के अनुसार, “पार्टी, किसानों के लिए कृषि उत्पादन का ‘न्यूनतम समर्थन मूल्य’ 1.5 गुना सुनिश्चित करेगी।”

घोषणापत्र में उत्पादों की कीमतों में अस्थिरता के समय किसानों की सहायता के लिए 5,000 करोड़ रुपये की ‘राएथा बंधु मार्केट इंवेस्टमेंट फंड’ की घोषणा की गई है।

‘राएथा बंधु छात्रवृत्ति’ योजना के तहत किसानों के बच्चों को कृषि या इससे संबंधित पाठ्यक्रमों की पढ़ाई के लिए 100 करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे।

भाजपा नेता ने बताया कि पार्टी राज्यभर में महिलाओं द्वारा संचालित सहकारी समितियां स्थापित करने तथा जिला या उपजिला मुख्यालयों पर महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पादों की बिक्री करने के लिए ‘स्त्री उन्नति’ कोष से 10,000 करोड़ रुपए स्वीकृत करेगी।

पार्टी के अनुसार, वह राज्य में ‘कर्नाटक गोहत्या रोकथाम और संरक्षण अधिनियम, 2012’ को दोबारा लागू करेगी।

इनपुट आईएएनएस

Karnataka Assembly Election 2018 BJP Manifesto BJP Yeddyurappa Agricultural Farmer

प्रादेशिक

13वीं राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता का लखनऊ में हुआ शुभारम्भ

Published

on

लखनऊ। 13वीं राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता का शुभारम्भ सोमवार को बाबू के.डी.सिंह स्टेडियम के बहुउद्देशीय हाल में हुआ। इस प्रतियोगिता का उद्घाटन भारतीय कुंग फू फेडरेशन के अध्यक्ष डा. सुधीर.एम. बोबड़े और खेल निदेशक डा. आर.पी.सिंह  ने दीप प्रज्जवलित करके किया।

यह जानकारी भारतीय कुंग फू फेडरेशन की महासचिव मंजू त्रिपाठी ने देते हुए कहा कि आज से तीन दिवसीय राष्ट्रीय कुंग फू प्रतियोगिता का शुभारम्भ शुरू हो गया। इस प्रतियोगिता में 18 राज्यों के 500 कुंग फू खिलाड़ी भाग लेंगे।

प्रतियोगिता के उद्घाटन के मौके पर भारतीय कुंग फू फेडरेशन के अध्यक्ष डा. सुधीर.एम. बोबड़े ने कहा कि आज इस खेल की समाज को आवश्यकता है, खास तौर से हमारी बहन-बेटियों को आत्मा रक्षा की इस कला को जरूर सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस खेल का प्रशिक्षण अनिवार्य किया जाए। सरकार  सभी बच्चों को स्कूलों में अनिवार्य रूप से प्रशिक्षण दिलाए।

इस अवसर पर खेल निदेशक डा. आर.पी. सिंह ने कहा कि मार्शल आर्ट्स यानी कुंग फू खेल स्वस्थ भारत, समर्थ भारत और अनुशासित भारत तथा अनुशासित नागरिक तैयार कर सकता है।

आज अधिकतर युवा पीढ़ी खेलों से दूर होती जा रही है। खेलों के बजाय मोबाइल में लगकर अपना जीवन अंधकार में कर रहे है। महिला सशक्तिकरण के लिए ही यह खेल बहुत ही आवश्यक है। इस खेल के जरिए अपनी आत्मा रक्षा कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि इस खेल को हर नागरिक को सीखना चाहिए।

इस अवसर पर भारतीय कुंग फू संघ के उपाध्यक्ष डा. चंद्र सेन वर्मा, उपकार के अध्यक्ष कैप्टन विकास गुप्ता, उपनिदेशक शिक्षा कृष्ण कुमार गुप्ता, राजेंद्र कुमार, जे.पी. शुक्ला आदि गणमान्य व्यक्ति व भारी संख्या में जनता मौजूद थी।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending