Connect with us

उत्तराखंड

अब शूरवीरों का नाम स्कैन कर जानिए उनकी बहादुरी की गौरवगाथा

Published

on

उत्तराखंड सरकार राज्य के शूरवीरों की जानकारी हासिल करने के लिए एक खास सुविधा की शुरूआत करने जा रही है। प्रधानमंत्री की डिजिटल इंडिया मुहिम में शामिल की गई इस सुविधा में लोग मोबाइल ऐप्लीकेशन के ज़रिए राज्य के किसी भी शहीद जवान के बारे में जानकारी ले सकेंगे।

देहरादून के चीड़ बाग में बनने वाले इस शौर्य स्थल का काम लगभग पूरा होने वाला है। इस जुलाई से लोग इस जगह को देख पाएंगे। देशभर के शहीद स्थलों की तुलना में इस जगह की बनावट बिलकुल अगल है। इस शौर्य स्थल में आपको आज़ादी के क्रांतिकारियों की डिजिटल झलक देख सकेंगे।

सुविधा के लिए तैयार किया जा रहा खास मोबाइल ऐप्लीकेशन ।

चीड़ बाग में बनने वाले इस शौर्य स्थल को डिजिटल माध्यम से लोगों तक पहुंचाने के लिए सरकार ने एक निजी कंपनी के साथ करार किया गया है। इसके तहत एक मोबाइल ऐप्लीकेशन तैयार किया जा रहा है। शौर्य स्थल पर आने वाले व्यक्ति को ये मोबाइल ऐप्लीएशन अपने फोन में डाउनलोड करनी होगी। इसके बाद शहीद स्थल पर दर्ज किसी भी शहीद के नाम को आप मोबाइल कैमरा से स्कैन करेंगे, तो शहीद के बारे में हर जानकारी आपके मोबाइल पर मिल जाएगी।

मोबाइल पर भेजी गई शहीद की जानकारी में शहीद के जन्म से लेकर शहादत तक की पूरी कहानी होगी। इस शौर्य स्थल में परमवीर चक्र विजेताओं की याद में शौर्य की दीवार भी तैयार की जा रही है।

उत्तराखंड

कोरोना की बढ़ती रफ्तार को काबू में लाने के लिए सीएम त्रिवेंद्र ने की बड़ी बैठक

Published

on

By

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने श्रीनगर गढ़वाल में राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर में कोविड 19 को लेकर अहम बैठक की है।

मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेज के कोराना सेन्टर की व्यवस्थाओं और अब तक हुए टेस्ट की स्थिति को भी जाना। उन्होंने राज्य में बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव केस को लेकर चिन्ता जताई और सभी अधिकारियों को मुस्तैदी से कार्य करने के निर्देश दिए हैं।

दो महीने बाद नए नियमों के साथ देश में हवाई सेवा अब फिर से शुरू

मुख्यमंत्री के साथ राज्य मन्त्री धन सिंह रावत भी बैठक में मौजूद रहें, वहीं बैठक में जिलाधिकारी पौड़ी समेत जिला प्रशासन के महत्वपूर्ण अधिकारी और मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य और डॉक्टर मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending