Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने मथुरा में लिया व्यवस्थाओं का जायज़ा

Published

on

मथुरा। राजकीय विमान से गुरुवार सुबह आगरा एयरपोर्ट पर पहुंच सीएम योगी आदित्‍यनाथ हेलीकॉप्‍टर से अलीगढ़ चले गए थे। अलीगढ़ के बाद वे दोपहर करीब तीन बजे मथुरा आ चुके हैं। वेटेरिनरी यूनिवर्सिटी से लंच के बाद मुख्‍यमंत्री सीधे जिला अस्‍पताल पहुंचे, यहां व्‍यवस्‍थाओं का जायजा लिया। इसके बाद वे मथुरा के कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण करने जा रहे हैं। मथुरा के बाद मुख्‍यमंत्री आगरा जाएंगे। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मथुरा में आए। उन्होंने यहां बनाए कमांड एंड कंट्रोल सेंटर व सरकारी जिला अस्पताल का निरीक्षण भी किया। तैनात अधिकारियों से समीक्षा बैठक की। सीएम ने पत्रकारों संग बातचीत भी की।

गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कान्हा की नगरी दोपहर तीन बजे पहुंच गए। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए बहुत ही चुनिंदा लोग उनके साथ दौरे में शामिल हुए हैं। जिला अस्‍पताल मेंं उन्‍हें इंतजाम चाक चौबंद मिले। इसके पीछे एक वजह ये भी थी कि मुख्‍यमंत्री आगमन की सूचना पर बुधवार से ही जिला प्रशासन ने व्‍यवस्‍थाओं को सुधारने की ओर ध्‍यान दे दिया था। रात से लेकर आज दोपहर तक साफ-सफाई और सेनेटाइजेशन के काम चलते रहे। मुख्‍यमंत्री इस समय मथुरा के कोविड कमांड सेंटर का निरीक्षण कर रहे हैं। इसके बाद वे आगरा आएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कोविड से बचाव जरूरी है। उन्होंने कहा कि सक्रिय केसों में तेजी से कमी आयी है। जिम्मेदार पदों पर बैठों लोगों को अनर्गल बयानबाजी नही करनी चाहिए। कोरोना वारियर्स और कोविड के कार्यों में लगे लोगों को हतोत्साहित न करें बल्कि उनका उत्साहवर्धन करें। सीएम ने यहां मरीजों से बातचीत भी की।

कोरोना से लड़ाई चल रही है

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मथुरा में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई चल रही है, पिछले 12 दिन में पूरे प्रदेश में सक्रिय केसों की संख्या कम हुई है। वर्तमान में प्रदेश में 20,4000, सक्रिय केस हैं। सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं। उत्तर प्रदेश में अब तक चार करोड़ से अधिक टेस्ट हो चुके हैं। एक दिन में दो लाख 92 हजार टेस्ट किए गए हैं।

दूसरी लहर में ऑक्सीजन की जरूरत

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस की पहली लहर में एल-वन, एल-टू और एलथ्री अस्पताल थे। पहली लहर में एक पॉजिटिव व्यक्ति एल-वन अस्पताल में ही ठीक हो जाता था। लेकिन दूसरी लहर में स्थिति बदली है, अब ऑक्सीजन की आवश्यकता पड़ रही है। वर्तमान में प्रदेश में बेड की संख्या बढ़ी है। ऑक्सीजन की सप्लाई में एयरफोर्स भी मदद कर रही है। सुरक्षा कवच के रूप में टीकाकरण अभियान चल रहा है। अब तक 45 प्लस में एक करोड़ 45 लाख को टीकाकरण किया जा चुका है।

बिना भेदभाव के टीकाकरण

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार बिना भेदभाव के मुफ्त टीका लगा रही है। प्रदेश में 26,5000 और मथुरा में 36,000 युवाओं को टीका लग चुका है। ऑक्सीजन के लिए 2,000000 कंसंट्रेटर उपलब्ध कराए गए हैं। मथुरा में एक्टिव केस की संख्या कम होना शुरू हो गई है। बीमारी से बचाव ही सर्वोत्तम उपाय है। बीमारी छुपाएं नहीं बल्कि उपचार कराएं।

गांवों में चल रहा स्क्रीनिंग का काम

प्रदेश के 97 हजार गांव में स्क्रीनिंग का काम चल रहा है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि महामारी के खिलाफ हमें सामूहिक रूप से लड़ना होगा। कोरोना वॉरियर्स का मनोबल बढ़ाना है। जिम्मेदार पदों पर बैठेलोग ऐसी हरकतें न करें जिससे कोरोना की लड़ाई प्रभावित हो। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के नियमों का पालन करें। मास्क पहनें, दो गज की दूरी का पालन करें। सीएम ने पूरे प्रशासन को धन्यवाद देकर पत्रकार वार्ता को समाप्त किया।

आज की खबर के लिए वरिष्ठ संवाददाता द्वारकेश बर्मन की रिपोर्ट

Continue Reading

प्रादेशिक

यूपीः 36,81,543 राशन कार्डधारकों को 90479.782 मीट्रिक टन खाद्यान्न का किया गया मुफ्त वितरण

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण गरीबों और जरूरतमंदों को राहत पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम-2013 के अंतर्गत आच्छादित सभी अंत्योदय एवं पात्र गृहस्थी राशन कार्डधारकों को 03 माह (जून, जुलाई एवं अगस्त) तक मुफ्त राशन उपलब्ध करा रही है।

इस योजना के तहत जून माह के दूसरे चरण के वितरण के अन्तर्गत आज अंत्योदय और पात्र गृहस्थी के 3681543 राशन कार्डधारकों को 90479.782 मीट्रिक टन खाद्यान्न का मुफ्त वितरण किया गया है।

यह जानकारी प्रदेश के अपर खाद्य आयुक्त, श्री अनिल कुमार दुबे ने आज यहां देते हुए बताया कि 488967 अंत्योदय कार्डधारकों को 18551.317 मीट्रिक टन और 3192576 पात्र गृहस्थी राशन कार्डधारकों को 71928.465 मीट्रिक टन खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया है।

उन्होंने बताया कि अन्त्योदय कार्डधारकों को जून माह में 03 किलोग्राम चीनी का वितरण 18 रू प्रति किलोग्राम की दर से किया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत आज 495852 अंत्योदय कार्डधारकों को 1487.556 मीट्रिक टन चीनी का वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि जून माह का वितरण आगामी 30 जून तक जारी रहेगा।

श्री दुबे ने बताया कि इस अवधि में अन्त्योदय कार्डधारकों को 35 किग्रा0 खाद्यान्न (20 किग्रा0 गेहूं तथा 15 किग्रा0 चावल) तथा पात्र गृहस्थी राशन कार्डों से सम्बद्ध यूनिटों पर 05 किग्रा0 खाद्यान्न प्रति यूनिट (03 किग्रा0 गेहूं व 02 किग्रा0 चावल) का निःशुल्क वितरण लाभार्थियों में सुनिश्चित कराया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि इस योजना के तहत वितरण की अन्तिम तिथि 30 जून, 2021 होगी, जिस दिन आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त न कर सकने वाले उपभोक्ताओं हेतु मोबाइल ओ.टी.पी. वेरीफिकेशन के माध्यम से वितरण सम्पन्न किया जा सकेगा।

Continue Reading

Trending