Connect with us

प्रादेशिक

कानपुर: परिजनों से 30 लाख रु लेकर फुर्र हो गए किडनैपर, पुलिस मलती रह गई हाथ

Published

on

कानपुर। यूपी के कानपुर में पुलिस की बड़ी नाकामी सामने आई है। यहां किडनैपर पीड़ित परिवार के सामने से ही फिरौती के 30 लाख रु लेकर फरार हो गए और पुलिस हाथ मलती रह गई। पीड़ित परिवार ने पुलिस के ही कहने पर अपना घर और बेटी के गहने बेचकर ये रकम इकठ्ठा की थी। पुलिस के कहे अनुसार से ये एक बैग में 30 लाख रु भरकर अपहरणकर्ताओं को देने के लिए लाए थे, लेकिन अपहरकर्ताओं ने इनसे ये रकम भी ले ली और पुलिस के भी चंगुल में नहीं आए।

पीड़ित परिवार ने अब पुलिस की भूमिका पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कानपुर के बर्रा में रहने वाली अपर्णा यादव, पति, बेटी और बेटे संचित यादव के साथ रहती हैं। संजीत एक पैथोलॉजी कर्मचारी था, जिसका रात को घर लौटते वक्त बदमाशों ने अपहरण कर लिया. ये 22 जून की घटना है| इसके बाद किडनैपर्स का फिरौती वसूलने के लिए फोन आया और उन्होंने संजीत को छोड़ने के लिए तीस लाख रुपये मांगे। इसके बाद परिवार ने पुलिस में शिकायत की।

परिवार का आरोप है कि पुलिस ने उन्हें कहा कि वो पैसों का इंतजाम कर लें, हम पैसे देते वक्त अपराधियों को पकड़ लेंगे। इसके बाद परिवार ने अपना घर बेच दिया, बहन की शादी के लिए जो जेवर रखे थे वो भी बेच दिए और 30 लाख रुपये जमा कर पुलिस की मौजूदगी में किडनैपर्स को दिए। लेकिन उन्होंने संजीत को नहीं सौंपा।  परिवार का कहना है कि पैसे देते वक्त पुलिस वहां मौजूद थी लेकिन पैसा भी गया और अपराधी भी भाग गए। मंगलवार को परिवार ने एसएसपी ऑफिस पहुंचकर रोते हुए आपबीती सुनाई।

#KANPUR #KIDNAPPER #UPPOLICE

प्रादेशिक

यूपी में 536 गांवों में मंडरा रहा बाढ़ का खतरा, एक्शन में आई योगी सरकार

Published

on

By

यूपी में अम्बेडकर नगर, बाराबंकी, अयोध्या, कुशीनगर, गोरखपुर, बहराइच, लखीमपुर खीरी, आजमगढ़, गोंडा, बस्ती, मऊ, संतकबीर नगर, सीतापुर, महराजगंज, सिद्धार्थनगर व बलरामपुर जिले के 536 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। इनमें से 391 गांव मैरुंड हैं।

राम मंदिर हमारी शाश्वत आस्था का प्रतीक बनेगा: पीएम मोदी

प्रदेश में शारदा नदी-पलिया कला (लखीमपुर खीरी) में, राप्ती नदी-बर्डघाट (गोरखपुर) में, सरयू नदी-एल्गिनब्रिज (बाराबंकी) में, सरयू नदी-अयोध्या (अयोध्या) में तथा सरयू (घाघरा) नदी-तुर्तीपार (बलिया) में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देशित किया है कि प्रदेश के समस्त बांधों की निगरानी के साथ ही आवश्यक मरम्मत सामग्री की उपलब्धता को भी सुनिश्चित किया जाए, ताकि किसी प्रकार की क्षति होने के पूर्व ही उसे रोका जा सके।

#Uttarpradesh #cmyogi #floods #lucknow

Continue Reading

Trending