Connect with us

प्रादेशिक

गुड़िया गैंगरेप केसः 7 साल बाद आया फैसला, दोनों आरोपी दोषी करार

Published

on

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली। गुड़िया गैंगरेप केस में 7 साल बाद अदालत का फैसला आ गया है। दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने दोनों आरोपियों प्रदीप और मनोज को दोषी करार दिया है।

30 जनवरी को अदालत दोषियों की सजा पर सुनवाई करेगा। कोर्ट ने पॉक्सो, किडनैपिंग, गैंगरेप और सबूत मिटाने के मामले में दोषी करार दिया है। दोषियों ने 5 साल की बच्ची के साथ 24 से ज्यादा घंटो तक अगवा बनाकर दुष्कर्म किया था।

यह मामला उस वक्त सुर्खियों में आया था जब निर्भया केस के 4 महीने बाद ही 15 अप्रैल 2013 को 5 साल की गुड़िया को 2 लोगों ने अपहरण करके उसका गैंगरेप किया था।

कोर्ट 30 जनवरी को सजा पर बहस करेगा। दोनों दोषियों पर अब भारतीय दंड सहिंता की धारा 363, 376 और 377 के तहत सजा सुनाई जाएगी। दोषियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट की धारा 6 के तहत भी सजा सुनाई जाएगी।

Continue Reading

प्रादेशिक

कोरोना के बढ़ते मामले पर योगी सरकार का बड़ा फैसला, 15 जिले पूरी तरह सील

Published

on

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर उत्तर प्रदेश की सरकार ने बड़ा उठाया है। हर दिन मरीजों की संख्या में होते इजाफे को देखते हुए 15 जिलों को पूरी तरह से सील करने का फैसला किया गया है।

जिलों को सील करने का यह आदेश आज रात 12 बजे से लागू हो जाएगा। आदेश लागू होने के बाद इन जिलों में 13 अप्रैल तक कोई भी आवाजाही नहीं होगी।

यूपी सरकार ने जिन 15 जिलों को पूरी तरह से सील किया है, वह हैं- लखनऊ, आगरा, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, महाराजगंज, सीतापुर और सहारनपुर. इन जिलों को 13 अप्रैल तक पूरी तरह से सील किया जाएगा।

योगी सरकार का कहना है कि इन जिलों को 13 अप्रैल तक पूरी तरह सील कर दिया गया है। इस दौरान कोई दुकानें नहीं खुलेंगी, सिर्फ आश्वयक वस्तुओं की होम डिलिवरी होगी।

इसके साथ ही केवल कर्फ्यू पास वालों को घर से निकलने की इजाजत दी जाएगी। 13 अप्रैल को स्थिति की समीक्षा की जाएगी, उसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending