Connect with us

मनोरंजन

66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का हुआ एलान, आयुष्मान की अंधाधुन ने मारी बाजी

Published

on

नई दिल्ली। 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान हो चुका है। इस लिस्ट में बेस्ट हिंदी फिल्म के लिए अंधाधुन को चुना गया है। बेस्ट एक्टर के लिए संयुक्त रूप से विक्की कौशल और आयुष्मान खुराना को चुना गया है।

देखें लिस्ट

बेस्ट फीचर फिल्म- हेलारू (गुजराती)

बेस्ट डायरेक्शन- आदित्य धर (उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक)

बेस्ट एक्ट्रेस- कीर्ति सुरेश (महानती, तेलुगू)

बेस्ट एक्टर- आयुष्मान खुराना (अंधाधुुन), विक्की कौशल (उरी)

बेस्ट डेब्यू डायेक्टर- सुधाकर रेड्डी यकंती, फिल्म नाल (मराठी)

बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस- सुरेखा सीकरी (बधाई हो)

बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर- स्वानंद किरकिरे (चुंबक)

बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर- अरिजीत सिंह, सॉन्ग बिंते दिल… (पद्मावत)

बेस्ट फीमेल प्लेबैक सिंगर- बिंदू मालिनी, नाथीचरामी (कन्नड़)

बेस्ट अडाप्टेड स्क्रीनप्ले- अंधाधुन

बेस्ट डायलॉग- तारीख (बंगाली)

बेस्ट कास्ट्यूम डिजाइनर- इंद्राक्षी पटनायक, गौरांग शाह, अर्चना राव, (महानती) (तेलुगू)

बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर- संजय लीला भंसाली (पद्मावत)

बेस्ट बैकग्राउंड म्यूजिक- सास्वत सचदेवा (उरी)

बेस्ट कॉस्ट्यूम डिजाइनर-

बेस्ट कोरियोग्राफी- पद्मावत (घूमर)

बेस्ट लिरिक्स : नाथीचरामी (कन्नड़)

बेस्ट स्पेशल इफेक्ट्स- KGF (कन्नड़) & AWE (तेलुगू)

बेस्ट हिंदी फीचर फिल्म- अंधाधुन

बेस्ट तेलुगू फिल्म- महानती

बेस्ट पजाबी फिल्म- अर्जिता

बेस्ट असमी फिल्म- बुलबुल कैन सिंग

बेस्ट मलयालम फिल्म : सुदानी फ्रॉम नाइजिरिया

बेस्ट कोंकणी फिल्म : अमोरी

बेस्ट एक्शन : केजीएफ (कन्नड़)

बेस्ट लिरिक्स : नाथीचरामी (कन्नड़)

बेस्ट गुजराती फिल्म : रेवा

बेस्ट तमिल फिल्म- बराम

बेस्ट मराठी फिल्म- भोंगा

बेस्ट राजस्थानी फिल्म- टर्टल

बेस्ट इंवेस्टिगेशन फिल्म- अमोली

बेस्ट स्पोर्ट्स फिल्म- स्विमिंग थ्रूद डार्कनेस

बेस्ट सोशल इश्यू फिल्म- ताला ते कुंजी

बेस्ट एनवायरमेंटल फिल्म- द वर्ल्ड मोस्ट फेमस टाइगर

बेस्ट फिल्म क्रिटिक अवॉर्ड- ब्लेस जॉनी और अनंत विजय को

 

Continue Reading

मनोरंजन

8 साल तक इस जानलेवा रोग से ग्रस्त थे अमिताभ बच्चन, वर्षों बाद पता चली थी बीमारी

Published

on

मुंबई। सदी के महानायाक अमिताभ बच्चन ने खुद को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बताया कि उन्हें आठ साल तक टीबी जैसी खतरनाक बीमारी थी और वो इस बात से बिलकुल अंजान थे।

उन्होंने आगे कहा कि ये बताने में उन्हें बुरा नहीं लगता कि वह टीबी के मरीज रह चुके हैं। अमिताभ एनडीटीवी के ‘स्वास्थ्य इंडिया’ की लॉन्चिग के मौके पर डॉक्टर हर्षवर्धन से बातचीत कर रहे थे, और उन्होंने उनसे आग्रह किया कि नियमित जांच के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए, ताकि शुरुआत में ही बीमारी का पता चल सके।

बिग बी ने कहा, “मैं हर समय अपने व्यक्तिगत उदाहरण को सबके सामने लाता रहता हूं और कोशिश करता हूं कि आप सबको इसके प्रति जागरूक कर सकूं और मुझे यह सार्वजनिक तौर पर कहते हुए बुरा नहीं लगता है कि मैं एक टीबी का और हेपेटाइटिस बी का मरीज रहा हूं।”

अमिताभ (76) कई सारे स्वास्थ्य अभियानों जैसे पोलियो, हेपेटाइटिस-बी, टीबी और मधुमेह से जुड़े रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे इन बीमारियों की जांच करवाएं और इलाज करवाएं।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending