Connect with us

नेशनल

कांग्रेस ने दिया सचिन को टिकट, इस लोकसभा सीट से लड़ेंगे चुनाव

Published

on

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में कुछ ही दिन बचे हैं, ऐसे में तमाम राजनीतिक दलों ने वोटरों के रिझाने की कोशिशें तेज कर दी हैं।

जहां एक ओर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अपने पांच सालों के रिपोर्ट कार्ड के जरिए पीएम मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने की बात कर रही है वहीं कांग्रेस राफेल, बेरोजगारी के मुद्दे पर बीजेपी को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

इस लोकसभा चुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए दोनों ही बड़ी (कांग्रेस और बीजेपी) पार्टियां टिकट बांटने में बहुत ज्यादा सावधानी बरत रही हैं।

दोबारा सत्ता में आने के लिए बीजेपी ने इस बार कई सांसदों के टिकट काट दिए हैं वहीं कांग्रेस भी सोच समझकर मजबूत दावेदारों को चुनावी समर में उतार रही है।

हाल ही में कांग्रेस ने अमरोहा से राशिद अल्वी के चुनावी मैदान में उतारा था लेकिन अब राशिद ने लोकसभा का चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। चुनाव न लड़ने के पीछे उन्होंने अपनी खराब स्वास्थ्य का हवाला दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राशिद के चुनाव लड़ने के इनकार के बाद अब इस सीट से सचिन चौधरी को मौका दिया गया है। आपको बता दें कि इस संसदीय सीट से बीजेपी ने कुंवर सिंह तंवर को मौका दिया है वहीं बसपा से दानिश अली इस चुनाव में अपना हाथ आजमाएंगे।

नेशनल

पार्टी छोड़ते ही प्रियंका चतुर्वेदी ने कांग्रेस पर किया बड़ा हमला, कह दी ये बड़ी बात

Published

on

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने के बाद प्रियंका चतुर्वेदी आखिरकार शिवसेना में शामिल हो गईं। शनिवार को प्रियंका ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

शिवसेना में शामिल होते ही प्रियंका कांग्रेस पर हमलावर हो गईं। उन्होंने कहा कि उनके आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाई गई जिसके बाद उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला कर लिया।

उन्होंने कहा कि मैं मुंबई के लिए काम करना चाहती हूं यही कारण है कि इस दल में शामिल हुई हूं। प्रियंका बोलीं कि कांग्रेस में जब कुछ लोगों ने उनके साथ बदसलूकी की, लेकिन वापस उन्हें पार्टी में जगह दी जाती है इससे उनके आत्मसम्मान को ठोस पहुंचीं। प्रियंका ने कहा कि मुझे पता है अब मेरे ऊपर सवाल उठाए जाएंगे, पिछले ट्वीट्स को उछाला जाएगा।

लेकिन मैंने सोच समझकर ये फैसला लिया है। मुझे उम्मीद थी कि उन्हें लोकसभा का टिकट जरूर मिलेगा, लेकिन मैं उससे निराश नहीं थी।

 

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending