भारत, T-90S tank, सैन्यी प्रतियोगिता,

भारत के T-90S tank में आई खराबी, सैन्य प्रतियोगिता से हुआ बाहर

नई दिल्ली। भारतीय सेना को उस वक्‍त निराश और शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा जब देश का मुख्य लड़ाकू टैंक T-90S tank टैंक बायथलॉन 2017 से बाहर हो गया। युद्ध टैंक की इंटरनेशनल प्रतियोगिता में चीन सहित 19 देशों ने भाग लिया।T90S टैंक, भारतीय सेना, अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता, टैंक बायथलान, tank biathlon 2017, रूस , 657 टी-90एस भीष्म टैंक, अलाबिनो रेंजेस

दरअसल भारतीय सेना की ये टैंक रूस में चल रही अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता tank biathlon में हिस्सा लेने गई थी। वहीं कुछ तकनीकी खामी की वजह से अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता से उसे बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। टैंक में पाई गई कुछ तकनीकी खामी की वजह से ऐसा किया गया। इन टैंकों के इंजन में गड़बड़ी पाई गई।

 

प्रतियोगिता अलाबिनो रेंजेस में 29 जुलाई को शुरू हुई थी। सूत्रों के मुताबिक भारतीय टीम इसके दो टी 90 टैंकों में गड़बड़ी आने के बाद अगले चरण में नहीं जा सकी। आपको बता दें कि 2001 से अबतक भारत 8525 करोड़ रुपये में 657 टी-90एस ‘भीष्म’ टैंकों का रूस से आयात कर चुका है। इसके बाद इन टैंकों को भारत में ही बनाया जा रहा है।

यह भी पढ़े : लखनऊ के राष्ट्रीय पुस्तक मेला में उमड़ने लगे पुस्‍तक प्रेमी

 

 

loading...
=>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.