Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

योगी सरकार करेगी मरदसों का आधुनिकीकरण, IIM-IIT के दिग्गज देंगें शिक्षकों को ट्रेनिंग

Published

on

लखनऊ। योगी सरकार द्वारा मदरसों के आधुनिकीकरण की मुहिम के क्रम में छात्रों की ऑनलाइन शिक्षा को लेकर प्रदेश के प्रशासनिक अधिकारी, शिक्षाविद और आईआईएम व आईआईटी के दिग्‍गज मदरसा शिक्षकों को ट्रेनिंग देंगे। बाकायदा स्‍पेशल क्‍लासेज के जरिए शिक्षकों को बताया जाएगा कि ऑनलाइन पढ़ाई कैसे कराई जाए। मदरसा बोर्ड की ओर से बुधवार ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें भाषा समिति के सदस्‍य दानिश आजाद, रजिस्‍ट्रार मदरसा बोर्ड आरपी सिंह समेत कई जिलों के अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण अधिकारी व शिक्षाविद शामिल रहे।

प्रदेश की योगी सरकार ने मदरसों का आधुनिककरण शुरू कर दिया है। कोरोना काल में मदरसो में छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई चालू हो गई है। यूपी मदरसा बोर्ड भाषा समिति के सहयोग से मंडलवार शिक्षकों को ट्रेनिंग देकर बच्‍चों को पढ़ाने के लिए तैयार कर रहा है। इसमें माध्‍यमिक शिक्षा परिषद से जुड़े शिक्षाविद व काउंसर और कई डीएमओ मदरसा शिक्षकों को विषय ट्रेनिंग दे रहे हैं। खासकर शिक्षकों को बताया कि वह सरल तरीके से बच्‍चों को कैसे पढ़ाएं। दानिश आजाद बताते हैं कि मदरसा शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई की ट्रेनिंग देने के लिए आईआईटी व आईआईएम वर्तमान व पूर्व छात्रों से बात की गई है। कई छात्रों ने  शिक्षकों के ट्रेनिंग प्रोग्राम में शामिल होने की हामी भर दी है। विश्‍वविद्यालयों के पूर्व कुलपति, रिटायर्ड प्रशासनिक अधिकारी भी इस ट्रेनिंग प्रोग्राम से जुड़ने को तैयार हैं।

भाषा समिति के सदस्‍य दानिश आजाद बताते हैं कि बुधवार को उपनिदेशक संजय कुमार मिश्र व जगमोहन सिंह, मदरसा बोर्ड के रजिस्‍ट्रार आरपी सिंह व मदरसा शिक्षक एसोसिएशन की ओर से ऑनलाइन ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इसमें डीएमओ कानपुर वर्षा अग्रवाल, असमत मलिक प्रशिक्षक माध्‍यमिक शिक्षा परिषद,डीएमओ अमरोहा नरेश यादव व उर्दू और दीनीयात एक्‍सपर्ट डॉ एजाज अंजुम ने शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई की बारिकियों के बारे में बताया। उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई ही जारी रहेगी। ऐसे में शिक्षकों को इसके लिए अपनी तैयारी करना चाहिए। दानिश आजाद ने बताया कि कौन-कौन सी ऑनलाइन एप के जरिए वह छात्रों से सीधे जुड़ सकते हैं। दानिश आजाद बताते हैं कि अभी हाल में मुलाकात के दौरान मुख्‍यमंत्री ने मदरसा छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करने के निर्देश दिए थे।

प्रादेशिक

यूपी में बीते 24 घंटे में आए 255 नए केस

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लोक भवन, लखनऊ में कोविड-19 के संबंध में गठित समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री  ने प्रदेश में बाहर से आने वाले लोगों का एंटीजन टेस्ट कराने हेतु विशेष प्रबंध करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में कोरोना से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 16,78,486 हो गई है। प्रदेश में कोविड रिकवरी दर 98.5 फीसदी है, जबकि पॉजिटिविटी दर 0.1% है। प्रदेश में अब तक 5.57 करोड़ से अधिक टेस्ट संपन्न हो चुके हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि प्रदेश में कुल एक्टिव कोविड केस की संख्या 4,000 से कम हो गई है। वर्तमान में 3,910 कोरोना मरीज उपचाराधीन हैं। विगत दिवस 16 जिलों में संक्रमण के नए मामले नहीं मिले, जबकि 55 जिलों में नए केस इकाई में आए हैं।

मुख्यमंत्री योगी को अवगत कराया गया कि विगत 24 घंटे में प्रदेश में 2,44,275 कोविड टेस्ट किए गए हैं। इसी अवधि में संक्रमण के 255 नए मामले आए हैं, जबकि 397 मरीज उपचारित होकर स्वस्थ हुए हैं। 2,525 लोग होम आइसोलेशन में हैं। सीएम योगी ने कहा कि 21 जून को निर्धारित 06 लाख वैक्सीनेशन के सापेक्ष 07,29,197 लोगों को टीका-कवर प्रदान किया गया। अब तक 2.63 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं।

01 जुलाई से प्रतिदिन 10-12 लाख वैक्सीनेशन के लक्ष्य के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशनों, बस स्टेशनों, हवाई अड्डों पर प्रदेश में बाहर से आने वाले लोगों के एंटीजन टेस्ट हेतु विशेष प्रबंध किए जाएं। आवश्यकतानुसार RT-PCR टेस्ट भी कराया जाए। पॉजिटिव पाए जा रहे लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग भी कराई जाए।

 

Continue Reading

Trending