Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

एनआरसी के खिलाफ ममता सरकार का प्रस्ताव बंगाल विधानसभा में पारित

Published

on

नई दिल्ली। राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ पश्चिम बंगाल विधानसभा में प्रस्ताव पेश किया गया। बीजेपी को छोड़कर सभी विपक्षी दलों ने प्रस्ताव का समर्थन किया जिससे विधानसभा ये प्रस्ताव पारित हो गया।

वहीं बीजेपी विधायक स्वाधीन सरकार ने इस प्रस्ताव के खिलाफ आवाज उठाते हुए बंगाल में भी एनआरसी की मांग की है।जानकारी के मुताबिक 12 सितंबर को ममता बनर्जी असम का दौरा कर एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर सकती हैं। फिलहाल ममता इस मुहिम के लिए विपक्षी नेताओं को एकजुट करने की कोशिश में हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले ममता ने एनआरसी से गोरखा समुदाय के 100,000 से ज्यादा लोगों के बाहर होने पर हैरानी जाहिर की थी। ममता ने कहा था कि एनआरसी से हजारों भारतीय बाहर हो गए हैं।

ममता बनर्जी ने 1 सितंबर को एक के बाद एक कई ट्वीट कर सरकार से यह सुनिश्चित करने की मांग की थी कि असली भारतीय सूची से बाहर नहीं हों और उन्हें न्याय सुनिश्चित किया जाए।

प्रादेशिक

कोरोना की संभावित थर्ड वेव को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतें अधिकारी: सीएम योगी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लोकभवन, लखनऊ में कोविड-19 के संबंध में गठित समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी ने कोविड के नए वैरिएंट ‘डेल्टा प्लस’ के संबंध में विशेष सतर्कता बरतने हेतु अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे राज्यों में ‘डेल्टा प्लस’ वैरिएंट की पुष्टि को देखते हुए निकटस्थ जिलों से सैम्पल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाए। जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए KGMU, लखनऊ में आवश्यक सुविधाएं यथाशीघ्र मुहैया कराई जाएं।

इस दौरान सीएम योगी को अवगत कराया गया कि प्रदेश में कोविड वैक्सीनेशन सुचारु रूप से संचालित है। जून माह में 01 करोड़ वैक्सीनेशन का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें 23 जून तक 97 लाख लोगों को टीका-कवर दिया जा चुका है। 06 जिले में 02 अंकों में कोविड मरीज मिले हैं। प्रदेश की टेस्ट पॉजिटिविटी दर लगातार एक फीसदी से कम बनी हुई है। विगत दिवस पॉजिटिविटी दर 0.08 फीसदी रही है।

मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि बीते 24 घंटे में 2.71 लाख से अधिक कोविड-19 के सैम्पल टेस्ट किए गए हैं। इसी अवधि में 20 जिलों में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है, जबकि 49 जिलों में इकाई की संख्या में संक्रमित पाए गए हैं। प्रदेश में अब तक 5.62 करोड़ से अधिक कोविड टेस्ट किए जा चुके हैं। अब तक उपचारित होकर स्वस्थ होने वालों को संख्या 16.79 लाख से अधिक हो गई है। सीएम योगी को अवगत कराया गया कि बीते 24 घंटों में 229 नए केस सामने आए हैं। वहीं, 308 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं। वर्तमान में प्रदेश में कुल 3,552 संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है। प्रदेश में रिकवरी दर 98.5 फीसदी हो गई है।

सीएम योगी ने कहा कि देश के कई राज्यों में कोविड के नए वैरिएंट ‘डेल्टा प्लस’ संक्रमण के मरीज सामने आए हैं। इसे देखते हुए हमें विशेष सतर्कता बरतनी होगी। राज्य स्तरीय स्वास्थ्य विशेषज्ञ परामर्शदाता समिति से संवाद करते हुए आवश्यक रणनीति तय की जाए। जिलावार स्थिति का आकलन करते हुए पीडियाट्रिक विशेषज्ञ, नर्सिंग स्टाफ को लेकर पर्याप्त मानव संसाधन की व्यवस्था कराएं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुसार सभी जरूरी उपयोगी दवाओं की खरीद कर ली जाए। कोविड की संभावित थर्ड वेव को देखते हुए सभी जरूरी प्रयास यथाशीघ्र पूरे किए जाएं। PICU/NICU की स्थापना की प्रक्रिया तेज हो। बाइपैप मशीन, PICU, मोबाइल एक्स-रे मशीन सहित सभी जरूरी उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए।

Continue Reading

Trending