Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

मध्य प्रदेश: मुरैना में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत, 2 दर्जन से ज्यादा बीमार

Published

on

मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, दो दर्जन से अधिक लोग बीमार हैं जिन्हें मुरैना जिला अस्पताल और ग्वालियर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया है। इस मामले में एसएचओ को सस्पेंड कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, मामला बागचीनी थाना स्थित छेरा मानपुर गांव और सुमावली थाना के पहवाली गांव का है। कहा जा रहा है कि छेरा मानपुर गांव में जहरीली शराब से 5 लोगों की मौत हुई है। वहीं, पहवाली गांव में 3 लोग जहरीली शराब के सेवन करने से मर गए, जबकि गंभीर रूप से बीमार में से 6 लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से दो और लोगों की मौत हो गई है।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मामले पर दुख जताते हुए बताया कि जांच के लिए एक टीम भेजी जा रही है। वहीं, एसएचओ को भी सस्पेंड कर दिया गया है। मिश्रा ने कहा कि इस मामले में किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

करियर

सीएम योगी ने दिया स्टूडेंट्स को तोहफा, 16 फरवरी से मिलेगी मुफ्त कोचिंग सुविधा

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बसंत पंचमी पर प्रदेश के छात्र-छात्राओं को मुफ्त कोचिंग का तोहफा देने जा रहे हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयार कर रहे युवाओं को प्रदेश के सभी 18 मंडलों के मुख्यालय में मुफ्त कोचिंग की सुविधा देने की तैयारी चल रही है।

स्टूडेंट्स के लिए योगी सरकार की ओर से खोले जा रहे अभ्युदय कोचिंग सेंटर 16 फरवरी से शुरू हो जाएंगे। इस योजना के तहत मुफ्त कोचिंग के साथ ही स्टूडेंट्स को 5 महीने तक शिक्षण सामग्री के लिए 2 हजार रुपए भी दिए जाएंगे।  इस योजना की तैयारी सीएम योगी आदित्यनाथ की देख-रेख में हो रही है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के शुरुआती दौर में भारतीय प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा के लिए कोचिंग दी जाएगी। उसके बाद अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग शुरू की जाएगी। इसके साथ ही इंजीनियरिंग, मेडिकल और अन्य प्रवेश परीक्षाओं के लिए भी तैयारी निशुल्क कराई जाएगी। ताकि जिससे प्रतियोगी परीक्षाओं एवं प्रदेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए छात्रों को अपना जिला और प्रदेश न छोड़ना पड़े।

योजना को लागू करने के लिए सॉफ्टवेयर तैयार हो रहा है। सॉफ्टवेयर के जरिए प्रदेश का युवा वर्ग सिविल सेवा परीक्षा की कोचिंग ले सकेगा। तैयारी के लिए उन्हें न तो अपने शहर से बाहर जाना पड़ेगा और न ही अधिक धन खर्च करना पड़ेगा। इसके अलावा हर साल पांच प्रतिभाओं को यूपी गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Continue Reading

Trending