Connect with us

प्रादेशिक

अब लालू के दिल व गुर्दे का इलाज एम्स में नहीं रिम्स में होगा

Published

on

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद को मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी के एम्स से छुट्टी दिए जाने के बाद यहां के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में स्थानांतरित कर दिया गया। राजद प्रमुख का एम्स में दिल व गुर्दे से जुड़ी बीमारियों का इलाज चल रहा था।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राजधानी एक्सप्रेस से रांची पहुंचे। उन्हें एंबुलेंस में रिम्स ले जाया गया और कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती किया गया है।

बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल के एक अधिकारी ने कहा, हम रिम्स से चिकित्सकीय रिपोर्ट मिलने का इंतजार कर रहे हैं। इसके आधार पर हम लालू प्रसाद को जेल ले जाने का फैसला करेंगे।

लालू प्रसाद यादव को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद एम्स से स्थानांतरित किया गया। रांची मेडिकल कॉलेज व अस्पताल स्थानांतरित करने पर नाराज लालू प्रसाद ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए चिकित्सकों से कहा, राजनीतिक दबाव के तहत उनके जीवन को खतरे में नहीं डाल जाए।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया को लिखे एक पत्र में कहा है, “अगर मुझे एम्स से रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है तो मेरे जीवन को किसी प्रकार की हानि होने पर पूरी जिम्मेदारी आप सभी की होगी।”

लालू प्रसाद को एम्स में 29 मार्च को भर्ती कराया गया था। एम्स के छह चिकित्सकों का एक दल उनके स्वास्थ्य की निगरानी कर रहा है। इसमें शल्य चिकित्सा, कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलॉजी व न्यूरोलॉजी विभाग के चिकित्सक शामिल हैं।

लालू प्रसाद को स्वास्थ्य संबंधी शिकायत के बाद 17 मार्च को रिम्स में भर्ती कराया गया था। वह बिरसा मुंडा जेल में चारा घोटाले से जुड़े मामले में 23 दिसंबर 2017 से जेल की सजा काट रहे हैं। हाल ही में उन्हें दुमका कोषागार मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने 14 साल जेल की सजा सुनाई।

इनपुट आईएएनएस

प्रादेशिक

कौशांबी में शादी से आ रही स्कॉर्पियो पर पलटा पत्थरों से लदा ट्रक, 8 की मौत

Published

on

कौशांबी। उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में एक दर्दनाक सड़क हादसे में 8 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि यहां एक स्कॉर्पियो शादी समारोह से वापस आ रही थी, तभी उसपर पत्थरों से लदा ट्रक पलट गया।

हादसा कड़ाधाम कोतवाली इलाके के देवीगंज चौराहे पर हुआ। बारात कोखराज थाना के शहजादपुर से, सिराथू में तैनात लेखपाल के घर से आ रही थी। इस दौरान स्कॉर्पियो में महिलाएं और बच्चे मौजूद थे। यह गाड़ी देवीगंज चौराहे के पास खड़ी थी। अचानक गिट्टियों से लदा एक ट्रक अनियंत्रित हो कर गाड़ी पर पलट गया। हादसे में गाड़ी में सवार 7 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और एक महिला ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया है और अधिकारियों को मृतकों के परिवारों को हरसंभव मदद सुनिश्चित करने और घायलों को उचित इलाज उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

Continue Reading

Trending