Connect with us

नेशनल

दरभंगा में बोले पीएम मोदी, राम मंदिर की तारीख पूछने वाले अब मजबूरी में ताली बजा रहे हैं

Published

on

दरभंगा। बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए प्रचार जारी है। तमाम दल मतीजों को अपने पक्ष में करने के लिए जी जान से जुटे हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी क्रम में दरभंगा में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। इस दौरान अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि राम मंदिर की तारीख पूछने वाले अब मजबूरी में ताली बजा रहे हैं।

विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले के समय जो लोग सरकार में थे उनका मंत्र रहा है – पैसा हजम परियोजना खत्म। उन्हें कमीशन शब्द से इतना प्रेम था कि कनेक्टिविटी पर कभी ध्यान ही नहीं दिया। केंद्र में एनडीए की सरकार बनने के बाद कोसी महासेतु का काम कई गुना तेजी से हुआ। कुछ दिनों पहले ही मुझे कोसी महासेतु के लोकार्पण का सौभाग्य मिला है। इससे 300 किलोमीटर की दूरी 20-22 किमी तक सिमट गई है। अब 8 घंटे की यात्रा सिर्फ आधे घंटे में ही पूरी होने लगी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने कहा था कि हर किसान के बैंक खाते में सीधी मदद भेजेंगे। आज करीब-करीब एक लाख करोड़ रुपये की सीधी मदद किसान के खाते में जमा कराई जा चुकी है। हमने कहा था कि हर गरीब का बैंक खाता खोलेंगे। आज 40 करोड़ से ज्यादा गरीबों का बैंक खाता खुल चुका है। हमने कहा था कि हर गरीब बहन-बेटी की रसोई में मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाएंगे। आज उज्जवला योजना ने बिहार की भी करीब 90 लाख महिलाओं को लकड़ी के धुएं से मुक्त किया है। हमने कहा था हर गरीब को 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा देंगे। आज बिहार के भी हर गरीब को ये सुविधा मिल रही है।

नेशनल

जनवरी में अपनी पार्टी लांच करेंगे रजनीकांत, इस दिन करेंगे घोषणा

Published

on

नई दिल्ली। बीते दिनों ख़बरें आई थीं कि एक्टर रजनीकांत अपनी राजनैतिक पार्टी लांच कर सकते हैं। अब उन्होंने इस रहस्य से पर्दा उठा दिया है। रजनीकांत ने कहा कि वह जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी लाएंगे। इसकी घोषणा 31 दिसंबर को की जाएगी।

इसके साथ ही रजनीकांत ने तमिलनाडु की राजनीति में अपनी वापसी को लेकर लग रहीं तमाम अटकलों को भी खत्म कर दिया है।

दिग्गज अभिनेता ने एक ट्वीट में इसकी घोषणा करते हुए कहा, “आगामी विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु में लोगों के बड़े पैमाने पर मिले समर्थन से एक ईमानदार, पारदर्शी, भ्रष्टाचार-रहित, धर्मनिरपेक्ष और आध्यात्मिक राजनीति होगी। चमत्कार होगा।”

Continue Reading

Trending