Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

नेशनल

सुप्रीम कोर्ट का केंद्र सरकार को झटका, कृषि कानूनों को लागू करने पर लगाई रोक

Published

on

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज किसानों के आंदोलन को लेकर लगाई गई याचिका पर सुनवाई करते हुए कृषि कानूनों के लागु होने पर रोक लगा दी है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को देखने के लिए 4 सदस्यों की कमेटी गठित कर दी है। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के साथ ही अगले आदेश तक तीनों कृषि कानून लागू नहीं होंगे। इस कमेटी में जो 4 लोग हैं वो हैं, भारतीय किसान यूनियन के भूपेंद्र सिंह मान, डॉ. प्रमोद कुमार जोशी (कृषि विशेषज्ञ), अशोक गुलाटी (कृषि विशेषज्ञ) और अनिल घनावंत (शेतकारी संगठन)।

किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) कानून 2020, (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा करार कानून 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) कानून 2020 को वापस लेने और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसलों की खरीद की कानूनी गारंटी देने की मांग कर रहे हैं।

इसके बाद से किसानों ने 26 नवंबर से इन कानूनों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और दिल्ली आने वाली सीमाओं को अवरुद्ध कर दिया। इसी के खिलाफ लगाई गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने तीनों कानूनों के लागू होने पर रोक लगा दी।

नेशनल

देश में लगातार घट रहे कोविड-19 के मामले, एक्टिव केस रह गए महज इतने

Published

on

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण देश में लगातार कम होता जा रहा है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 13,202 नए मामले सामने आए हैं और 131 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा रविवार को 13,298 लोगों ने इस बीमारी को मात दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में अब एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 1 लाख 84 हजार 182 हो गई है। वहीं अगर कुल कोरोना संक्रमण की बात करें तो यह संख्या 1 करोड़  6 लाख 67 हजार 736 हो गए हैं। मंत्रालय के मुताबिक देश में अब तक कुल 1 लाख 53 हजार 470 लोगों ने कोविड-19 के कारण मौत हो चुकी है।

देश में कोरोना वायरस के एक्टिव मामले लगातार कम हो रहे हैं। ऐसे में अब भारत में कोरोना को हराने के बहुत करीब पहुंच चुका है। कोरोना संक्रमण के हिसाब से अमेरिका सबसे आगे है। वहीं भारत दूसरे स्थान पर है। लेकिन अगर एक्टिव केस की बात करें तो देश में लगातार घटते सक्रिय मामलों की वजह से भारत का स्थान 13वां हो गया है।

Continue Reading

Trending