Connect with us

नेशनल

जम्मू-कश्मीर के विशेषाधिकार खत्म, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

Published

on

नई दिल्ली। बीते एक हफ्ते से लग रहे तमाम कयासों के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में सोमवार को जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने का संकल्प पेश कर दिया साथ ही अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का संकल्प भी पेश किया है।

अमित शाह के इस ऐलान के बाद सदन में जोरदार हंगामा शुरू हो गया। मिली जानकारी के मुताबिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

राष्ट्रपति की इस मंजूरी के बाद जम्मू-कश्मीर अब पूर्ण राज्य नहीं बल्कि केंद्र शासित प्रदेश बन गया है साथ लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा मिल गया है।

पीडीपी सांसद इस घोषणा के बाद ही कपड़े फाड़कर बैठ गए और हंगामा करने लगे। यही नहीं कांग्रेस, टीएमसी और डीएमके के सांसद भी सरकार की इस घोषणा पर खूब हंगामा कर रहे हैं। कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि बीजेपी ने संविधान की हत्या की है।

नेशनल

बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए महाराष्ट्र के शिक्षक को मिला 7 करोड़ का इनाम

Published

on

लंदन। भारत के एक प्राथमिक स्कूल शिक्षक को बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने एवं देश में त्वरित कार्रवाई (क्यूआर) कोड वाली पाठ्यपुस्तक क्रांति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए 7 करोड़ रु का पुरस्कार मिला है। इस प्राइमरी शिक्षक का नाम रंजीत सिंह दिसाले हैं जिन्होंने ग्लोबल टीचर प्राइज जीता है। लेकिन इन्होंने बड़ा दिल दिखाते हुए रकम का आधा हिस्सा प्रतिभागियों में दान करने की घोषणा की है।

उन्होंने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी ने शिक्षा और संबंधित समुदायों को कई तरह से मुश्किल स्थिति में ला दिया, लेकिन इस मुश्किल घड़ी में शिक्षक यह सुनिश्चित करने के लिए यथाश्रेष्ठ देने का प्रयास कर रहे हैं कि हर विद्यार्थी को अच्छी शिक्षा सुलभ हो।”

दिसाले ने कहा, “शिक्षक असल में बदलाव लाने वाले लोग होते है जो चॉक और चुनौतियों को मिलाकर अपने विद्यार्थियों के जीवन को बदल रहे हैं। वे हमेशा देने और साझा करने में विश्वास करते हैं और इसलिए मैं यह घोषणा करते हुए खुश हूं कि मैं पुरस्कार राशि का आधा हिस्सा अपने साथी प्रतिभागियों में उनके अतुल्य कार्य के लिए समान रूप से बांटूंगा। मेरा मानना है कि साथ मिलकर हम दुनिया को बदल सकते हैं क्योंकि साझा करने की चीज बढ़ रही है।

Continue Reading

Trending