Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

अन्तर्राष्ट्रीय

ईरान के मौलवी का अजीबोगरीब दावा-कोरोना वैक्सीन से लोग बन जाएंगे समलैंगिक

Published

on

नई दिल्ली। ईरान के मौलवी आयतुल्लाह अब्बास तबरीजियन ने कोरोना वैक्सीन को लेकर हैरान कर देने वाला दावा किया है। उनके मुताबिक कोरोना की वैक्सीन लगवाने से लोग समलैंगिक बन जाएंगे।आयतुल्लाह अब्बास तबरीजियन ने सोशल मीडिया एप टेलीग्राम पर ये दावा किया।

इस एप पर उनके दो लाख दस हजार फॉलोअर्स हैं। एक मीडिया कंपनी के अनुसार, तबरीजियन ने लिखा कि उन लोगों के पास मत जाइए, जिन्होंने कोरोना का टीका लगवा लिया है, ऐसे लोग समलैंगिक बन गए हैं। एलजीबीटी समुदाय के अधिकारों के लिए काम करने वाले संगठनों ने अयातुल्ला अब्बास तबरीजियन के दावे के बाद बयान पर नाराजगी व्यक्त की है।

LGBT एक्टिविस्ट पीटर टुटशेल ने कहा कि मौलवी का दावा कोरोना और समलैंगिकों को “शैतान” के रूप में लेबल करने के लिए एक चाल है। गौरतलब है कि एक साल से ज्यादा समय से पूरी दुनिया में कोहराम मचाने वाले कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए दुनिया के कई देशों में वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू हो चुका है। भारत में भी इस समय दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया गया है। देश में अब तक 66,11,561 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा चुका है।

अन्तर्राष्ट्रीय

आ गई कोरोना की एक और वैक्सीन, अमेरिका में मिला इमरजेंसी अप्रूवल

Published

on

नई दिल्ली। अमेरिका ने कोरोना के खिलाफ जंग तेज कर दी है। इसी कड़ी में शनिवार को जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन ‘जैनसेन’ को इमरजेंसी अप्रूवल दे दिया गया।

मंजूरी मिलने के बाद अमेरिका में यह तीसरी वैक्सीन है जिसे कोविड-19 के खिलाफ इस्तेमाल किया जाएगा। इससे पहले मॉडर्ना और फाइजर को भी इमरजेंसी अप्रूवल मिल चुका है।

CNN के मुताबिक, यह अमेरिका की पहली सिंगल डोज वैक्सीन है। व्हाइट हाउस के सीनियर ऑफिसर एंडी स्लाविट ने सोशल मीडिया पर कहा कि तीसरी सेफ और इफेक्टिव वैक्सीन का आना बहुत अच्छी खबर है।

बता दें कि इस वैक्सीन का ट्रायल अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका और लैटिन अमेरिका के 44 हजार से ज्यादा लोगों पर किया गया था। FDA के मुताबिक, यह वैक्सीन कोरोना के मॉडरेट और क्रिटिकल मरीजों को दी गई। इस दौरान यह 66.1% इफेक्टिव रही।

 

Continue Reading

Trending