Connect with us

मनोरंजन

आईफा उत्सवम : ‘बाहुबली’, ‘एन्नु..’ ने मारी बाजी

Published

on

SS-Rajamouliहैदराबाद| फिल्मकार एस. एस. राजमौली द्वारा निर्देशित लोकप्रिय फिल्म ‘बाहुबली’ और मलयालम रोमांटिक-ड्रामा फिल्म ‘एन्नु निन्ते मोएद्दीन’ ने आईफा उत्सवम के पहले संस्करण में यहां सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार हासिल किया। इस दो दिवसीय समारोह में रविवार को तमिल और मलयालम फिल्म जगत की प्रतिभाओं को पुरस्कृत किया गया।

इस समारोह में 12 वर्गो में पुरस्कार दिए गए, जिनमें से छह वर्ग के पुरस्कार ‘बाहुबली’ ने अपने नाम किए। इसमें सर्वश्रेष्ठ निर्देशन और सर्वश्रेष्ठ पिक्चर का पुरस्कार भी शामिल है।इसके साथ ही फिल्म ‘थानी ओरुवन’ के लिए अभिनेता जयम रवि को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता और फिल्म ‘माया’ के लिए नयनतारा को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार मिला।

समारोह में फिल्म ‘थानी ओरुवन’ के लिए ही अरविंद स्वामी को नकारात्मक भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार हासिल हुआ। फिल्म ‘कथ्थी’ के लिए संगीतकार अनिरुद्ध रविचंदर को सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक और फिल्म ‘मारी’ के लिए अभिनेता धनुष को सर्वश्रेष्ठ गीतकार के पुरस्कार से नवाजा गया। मलयालम फिल्म जगत वर्ग में पृथ्वीराज अभिनीत फिल्म ‘एन्नु निन्ते मोएद्दीन’ ने कुल पांच पुरस्कार अपने नाम किए।

इसी क्रम में फिल्म ‘नीना’ के लिए फिल्मकार लाल जोसे को सर्वश्रेष्ठ निर्देशन का पुरस्कार मिला। इस समारोह में फिल्मकार के. बालाचंदर, संगीतकार एम. एस. विश्वनाथन और निर्माता टी. ई. वासुदेवन को श्रद्धांजलि दी गई। सोमवार को तेलुगू-कन्नड़ फिल्म जगत के प्रतिभाशाली कलाकारों को पुरस्कृत किया जाएगा

नेशनल

शिवसेना में शामिल हुईं उर्मिला मातोंडकर, उद्धव ठाकरे भी रहे मौजूद

Published

on

मुंबई। एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर मंगलवार को पार्टी अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना में शामिल हो गईं। विधान परिषद के लिए राज्यपाल की ओर से मनोनीत होने वाले 12 सदस्यों में पार्टी उर्मिला मातोंडकर के नाम का प्रस्ताव पहले ही कर चुकी है।

उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे ने उन्हें ‘शिव बंधन’ बांधकर पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस मौके पर उद्धव ठाकरे के अलावा सुभाषा देसाई, अनिल देसाई समेत पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद थे।

उर्मिला 2019 में कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। हालांकि यहां उन्हें भारतीय जनता पार्टी के गोपाल शेट्टी से हार मिली थी, जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी।

 

 

Continue Reading

Trending