Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

नेशनल

बार-बार सैनिटाइजर से हाथ साफ करना हो सकता है खतरनाक, स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने दी चेतावनी

Published

on

नई दिल्ली। अगर आप भी बार बार सेनिटाइजर का इस्तेमाल करते हैं तो आपको ये खबर जरूर पढ़ लेनी चाहिए। स्वास्थ्य मंत्रालय के हेल्थ सर्विसेज के एडिशनल डायरेक्टर जनरल डॉ. आरके वर्मा ने कहा है कि लोगों को बार बार सेनिटाइजर का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अभी जो समय है, ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। किसी ने सोचा भी नहीं था कि इस तरह की वायरस से जुड़ी महामारी आएगी। खुद को बचाने के लिए मास्क पहनिए. समय-समय पर गर्म पानी पीते रहिए। हाथ धोते रहिए। लेकिन सेनिटाइजर का ज्यादा इस्तेमाल करने से बचिए।

हालांकि उन्होंने सेनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से बचने की वजह नहीं बताई। लेकिन स्वास्थ्य के जानकारों का कहना है कि सेनिटाइजर में एल्कोहल होता है। यह त्वचा से वायरस के साथ ही शरीर के लिए जरूरी बैक्टीरिया को भी मारता है। साथ ही ज्यादा इस्तेमाल से त्वचा को भी नुकसान पहुंचता। सेनिटाइजर से स्किन सूख जाती है. इसके अलावा सेनिटाइजर यूज़ करते समय आग से दूर रहना भी जरूरी होता है। सेनिटाइजर को आंखों और मुंह से भी दूर रखना चाहिए।

जानकारों का कहना है कि साबुन से हाथ धोना सेनिटाइजर से ज्यादा कारगर और सुरक्षित है। सेनिटाइजर का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए।

नेशनल

सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन आवंटन के लिए बनाई टास्क फोर्स, कई टॉप डॉक्टर्स शामिल

Published

on

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन आवंटन के लिए शनिवार को नेशनल टास्क फोर्स (एनटीएफ) बनाने का फैसला किया है। इस टास्क फोर्स में 12 सदस्य रहेंगें। उच्चतम न्यायालय की ओर से इसमें देश के कई प्रमुख अस्पतालों के डॉक्टरों को शामिल किया गया है।

इसमें शामिल 12 सदस्यों के नाम- वेस्ट बंगाल यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेस के पूर्व वाइस चांसलर डॉ. भाभातोश बिस्वास, दिल्ली स्थित सर गंगाराम अस्पताल के चेयरपर्सन डॉ. देवेंद्र सिंह राणा, नारायणा हेल्थ केयर के चेयरपर्सन डॉ. देवीशेट्टी, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (वेल्लोर) के प्रोफेसर डॉ. गगनदीप कांग, डॉ. जेवी पीटर, मेदांता अस्पताल के चेयरपर्सन डॉ. नरेश त्रेहन, फोर्टिस अस्पताल के डॉ. राहुल पंडित, सर गंगाराम अस्पताल के डॉ. सौमित्र रावत, इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बायलरी साइंस (दिल्ली) के डॉ. शिव कुमार, मुंबई स्थित ब्रीच कैंडी अस्पताल के डॉ. जरीर एफ., केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव और नेशनल टास्क फोर्स के संयोजक जोकि सरकार में कैबिनेट सचिव स्तर का अधिकारी होगा- हैं।

Continue Reading

Trending