Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

ऑफ़बीट

लड़कियां रात में इन्टरनेट पर ये चीज़ करती है सबसे ज्यादा सर्च, जानकर हैरान रह जाएंगे

Published

on

इन्टरनेट के माध्यम से आप छोटी – बड़ी सभी प्रकार के बातें जान सकते है। इन्टरनेट आज दौर के लोगों के लिए उनके जीवन का अहम् हिस्सा बन गया है। फिर चाहे रात हो या दिन इन्टरनेट यूज़ करने वाले इसके यूज़ करते है।

साभार – INTERNET

अधिकतर लोग इन्टरनेट का यूज़ दोस्तों से चैटिंग, सोशल साइड यूज़ करने और ऑनलाइन विडियो या टीवी देखने के लिए यूज़ करते है। लेकिन क्या आप जानते है भारत में 29 से 30 प्रतिशत लड़कियां इन्टरनेट का यूज़ करती है। लेकिन आपने कभी ये सोचा है की लड़कियां इन्टरनेट पर सबसे अधिक क्या यूज़ करती है नहीं ना चलिए आज आपको बताते है की लड़कियां इन्टरनेट पर सबसे अधिक क्या सर्च करती है।

साभार – INTERNET

हर लड़की अन्य दूसरी लड़कियों से ज्यादा खूबसूरत दिखना चाहती है। हर लड़की जब इन्टरनेट का यूज़ करती है तो वह सबसे पहले ब्यूटी से जुड़े नुस्खे और प्रोडक्ट्स सर्च करती है।

साभार – INTERNET

लडकियों की दूसरी पसंद भी ब्यूटी से जुड़ी होती है लड़कियां इंटरनेट पर मेहंदी की डिजाइन सर्च करती है। लड़कियों में हमेशा चाहत होती है की वे सबसे अलग दिखे और इसके लिए वे हर चीज करती है जो उन्हें दूसरों से अलग दिखने में मदद करता है। इसलिए वे इन्टरनेट पर विभिन्न प्रकार के मेहंदी के डिज़ाइन ढूंढती है।

साभार – INTERNET

लड़कियां ऑनलाइन शॉपिंग की साइड पर जाकर कपड़ों के डिज़ाइन और नए कपड़ों को सर्च करती है। जिस तरह लड़कियां आम बाजार विभिन्न दुकानों पर घूम कर कपडें खरीदती है। ठीक वैसे ही वे ऑनलाइन शॉपिंग पर घंटों समय बिताती है।

#lifestyle #girls #girlslife #Internet

ऑफ़बीट

पृथ्वी का कब होगा अंत? पता लगाने में जुटे वैज्ञानिक

Published

on

नई दिल्ली। दुनियाभर में बढ़ती प्राकृतिक आपदाओं, ग्लोबल वार्मिंग के कारण समुद्र का बढ़ता जलस्तर, वायरस के कारण फैल रही महामारियों के कारण एक दिन इस दुनिया का अंत होना तय है। क्या इंसानी नस्ल इस विनाश से बच पायेगी। इन सब बातों का पता लगाने के लिए नासा के वैज्ञानिक शोध कर रहे हैं।

द सन की रिर्पोट के मुताबिक, नासा के द्वारा शुरू किया गया एक नया मिशन दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण सवाल का जवाब ढूंढ़ सकता हैं। नासा का यह शोध शुक्र ग्रह से जुड़ा हुआ हैं।

साइंस फोकस की रिर्पोट के मुताबिक, शुक्र ग्रह कभी धरती की तरह हुआ करता होगा। विशेषज्ञों की माने तो शुक्र ग्रह का ड्यूटेरियम-हाइड्रोजन रेशियो धरती की तुलना में 100 गुना अधिक हैं।

इसके पीछे की वजह ये मानी जा रही हैं कि शुक्र ग्रह पर पानी रहा होगा, जो अब गायब हो चुका हैं। शुक्र ग्रह से जुड़ी एसी गुत्थियों को सुलझाने के लिये नासा कुछ साल बाद 2028 से 2030 के बीच अपना DAVINCI+Veritas Probes रवाना करेगा। शुक्र ग्रह से जुड़े सभी सिद्धांतो का अध्ययन कर धरती के अंत के समय का अनुमान लगाया जा सकेगा।

Continue Reading

Trending