Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

क्रब में अचानक जिंदा हो गया शख्स, वापस अस्पताल ले जाने पर पता चली ये बात

Published

on

लखनऊ उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक युवक कब्रिस्तान में अचानक जिंदा हो गया जिसके बाद वहां मौजूद लोग हैरान रह गए।

युवक को  डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था जिसके बाद परिवार के लोग उसे दफनाने के कब्रिस्तान ले गए थे। कब्र खोद ली गई थी और बॉडी को उसमें रखा ही जा रहा था कि परिवार के कुछ सदस्यों ने उसमें हरकत देखी।

फौरन दफनाने की प्रक्रिया को रोक दिया गया। परिवार युवक को लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर्स ने बताया कि शख्स अभी जिंदा है। इस शख्स का नाम मोहम्मद फुरकान है।

फुरकान 21 जून को एक सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गया था। इसके बाद उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। सोमवार को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया था।

बॉडी को एंबुलेंस से उसके घर पहुंचा दिया गया। फुरकान के बड़े भाई मोहम्मद इरफान ने कहा कि यह अप्रत्याशित है। परिवार को विश्वास नहीं हो रहा। हमें हमारा भाई वापस मिल गया।

इरफान ने कहा कि भाई के इलाज के लिए  निजी अस्पताल परिवार से सात लाख रुपए ले चुका था। जब हमने उन्हें बताया कि अब हमारे पास पैसे नहीं है तो उन्होंने सोमवार को फुरकान को मृत घोषित कर दिया। लेकिन अब हम राम मनोहर लोहिया अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। उसे वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है।

प्रादेशिक

11 महीने बाद खुले स्कूल, सीएम योगी ने बच्चों को दी चॉकलेट

Published

on

लखनऊ। कोरोना वायरस की वजह से पिछले 11 महीनों से बंद यूपी के स्कूल आज यानी 1 मार्च से खुल गए। इस दौरान कई स्कूलों में केक काटा गया तो कई जगहों पर बच्चों पर पुष्प वर्षा की गई।

फिर से स्कूल खुलने की खुशी में कक्षाओं को गुब्बारों से सजाया गया था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को लखनऊ के नरही स्थित सरकारी स्कूल पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का भी पालन किया गया। ध्यान रखा गया कि सभी बच्चे सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर ही बैठें। सीएम योगी ने बच्चों तो चॉकलेट भी दी।

बता दें कि लगभग एक साल बाद आज से पहली से पांचवीं तक के स्कूल खुले हैं तो कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल है। सरकारी स्‍कलों में पहला दिन उत्‍सव के रूप में मनाया जा रहा है। इस संबंध में शासन की ओर से विशेष गाइडलाइन जारी की गई थी।

Continue Reading

Trending