Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

देश में कोरोना के मामले घटे, बीते 24 घंटे में 2.83 लाख नए केस

Published

on

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का कहर अब थोड़ा कम होता दिख रहा है। कई दिनों बाद भारत में 3 लाख से कम केस आए। ताजा आंकड़ो के मुताबिक देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 2.83 लाख नए मामले सामने आए।

वहीं इससे ठीक होने वाले लोगों की संख्या 3 लाख 78 हजार से ज्यादा रही। इन बड़ी संख्या में लोगों के नेगेटिव आने के बाद अब एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 35,16,997 हो गई है।

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के द्वारा अपडेट आंकड़ों के मुताबिक, भारत में COVID19 के 2,81,386 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,49,65,463 हो गई।

4,106 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 2,74,390 हो गई है। 3,78,741 नए डिस्चार्ज के बाद कुल डिस्चार्ज की संख्या 2,11,74,076 हुई। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या अब 35,16,997 है।

प्रादेशिक

शिवसेना के स्थापना दिवस पर बोले उद्धव ठाकरे- हिंदुत्व और मराठा की अस्मिता पार्टी की प्राथमिकता

Published

on

मुंबई। महाराष्ट्र में शिवसेना और कांग्रेस के बीच खींचतान बढ़ती जा रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर दिए बयान को सुनकर सियासी हलचल और तेज होती हुई नज़र आ रही है।

महाविकास अघाड़ी गठबंधन में बनी महाराष्ट्र सरकार के बीच अब तकरार देखने को मिल रही है। शनिवार को पार्टी के 55वें स्थापना दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के दिये गये बयान के बाद शिवसेना और कांग्रेस के बीच दरार की खाई और गहरी हो गई है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने स्थापना दिवस के मौके पर कहा कि हिंदुत्व और मराठा की अस्मिता पार्टी की प्राथमिकता है। उन्होने कांग्रेस का नाम बिना लिए उसपर हमला करते हुए बोला कि जो लोग अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहें हैं, उन्हें जनता चप्पलों से मारेगी। आपको बताते चलें कि नाना पटोले कई बार अकेले चुनाव लड़ने की बात कर चुके हैं।

मुख्यमंत्री के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत का बड़ा बयान

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि जो लोग अकेले चुनाव लड़ना चाहते हैं, वो लड़ सकते हैं। उन्होने आगे बोलते हुए कहा कि क्या हम चुपचाप बैठकर देखेंगे? शिवसेना ने अपने बल पर राजनीतिक युद्ध लड़ा हैं। उन्होंने आगे कहा कि चुनाव के समय भले ही गठबंधन हो सकता हैं पर चुनाव अपने बल पर ही लड़ा जाता हैं। संजय राउत ने कहाँ कि चाहे ये मुद्दा महाराष्ट्र की शाखा का हो या शिवसेना के आस्तित्व का, अगर हमें लड़ना होगा तो हम लड़ेगे।

Continue Reading

Trending