Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

अन्तर्राष्ट्रीय

चीन में इंसान में पहली बार मिला बर्ड फ्लू संक्रमण

Published

on

नई दिल्ली। चीन के जिआंगसू प्रांत में H10N3 बर्ड फ्लू का पहली बार इंसान में पाया गया है। इससे पहले यह वायरस पक्षियों में पाया जाता था। जानकारी के अनुसार 41 वर्षीय शख्स में बर्ड फ्लू का का H10N3 स्ट्रेन पाया गया है। चीन के नेशनल हेल्थ कमिशन ने इसकी पुष्टि की है। यह शख्स चीन के झेनजियांग का रहने वाला है।

एनएचसी ने बताया कि बुखार और अन्य लक्षण दिखने के बाद इस शख्स को बीती 28 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके एक महीने बाद यानी 28 मई को इस शख्स के शरीर में H10N3 स्ट्रेन पाए जाने की पुष्टि हुई है। हालांकि, एनएचसी ने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है कि यह शख्स वायरस से संक्रमित कैसे हुआ।

चीन में एवियन इन्फ्लूएंजा के कई अलग-अलग स्ट्रेन हैं और कुछ छिटपुट रूप से लोगों को संक्रमित करते हैं, आमतौर पर वे जो मुर्गी पालन करते हैं। इन्फ्लुएंजा ए वायरस (बर्ड फ्लू वायरस के रूप में भी जाना जाता है) का एक उपप्रकार है, जबकि H5N8 केवल मनुष्यों के लिए कम जोखिम प्रस्तुत करता है, यह जंगली पक्षियों और मुर्गे के लिए अत्यधिक घातक है। अप्रैल में, पूर्वोत्तर चीन के शेनयांग शहर में जंगली पक्षियों में अत्यधिक रोगजनक H5N6 एवियन फ्लू पाया गया था।

अन्तर्राष्ट्रीय

इब्राहीम रईसी होंगे ईरान के नए राष्ट्रपति, हसन रूहानी की लेंगे जगह

Published

on

नई दिल्ली। इब्राहीम रईसी ने ईरान के राष्ट्रपति पद का चुनाव जीत लिया है। देश के सर्वोच्च नेता आयतुल्ला अली खामेनेई के कट्टर समर्थक इब्राहीम रईसी ने इस चुनाव में बड़े अंतर से जीत हासिल की।

रईसी अगस्त महीने में हसन रूहानी की जगह लेंगे। इब्राहीम रईसी ईरान के शीर्ष न्यायाधीश हैं और अति-रूढ़िवादी विचार के शख्सियत माने जाते हैं। उन्हें 2019 में ईरान की न्यायपालिक का प्रमुख नियुक्त किया गया था। सुप्रीम लीडर के बाद ईरान के राष्ट्रपति देश में दूसरे सर्वोच्च अधिकारी माने जाते हैं।

शुरुआती नतीजों के मुताबिक, रईसी ने एक करोड़ 78 लाख मत हासिल किए। चुनावी दौड़ में एकमात्र उदारवादी उम्मीदवार अब्दुलनासिर हेम्माती बहुत पीछे रहे गए। बहरहाल, खामेनेई ने रईसी के सबसे मजबूत प्रतिद्वंद्वी को अयोग्य करार दे दिया था, जिसके बाद न्यायपालिका प्रमुख ने यह बड़ी जीत हासिल की।

सन् 1960 में ईरान के मशहद में जन्में रईसी बहुत कम उम्र से ही न्याय व्यवस्था का हिस्सा रहे हैं। 1979 में इस्लामिक क्रांति का हिस्सा रहे रईसी को उस वक्त तेहरान के पड़ोसी राज्य कराज का प्रॉसिक्यूटर जनरल बनाया गया था।

Continue Reading

Trending