Connect with us
https://www.aajkikhabar.com/wp-content/uploads/2020/12/Digital-Strip-Ad-1.jpg

प्रादेशिक

बीजेपी नेताओं के निधन पर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने दिया अजीबोगरीब बयान

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के निधन पर अजीबोगरीब बयान दिया है।

विपक्ष पर बड़ा आरोप लगाते हुए साध्वी ने कहा कि विपक्ष बीजेपी नेताओं पर मारक शक्ति का इस्तेमाल कर रहा है, जिस कारण उनकी असमय मृत्यु हो रही है। साध्वी प्रज्ञा ने दावा किया कि एक संन्यासी ने मुझसे कहा था कि बीजेपी नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है।

दरअसल, राजधानी भोपाल के प्रदेश बीजेपी कार्यालय में सोमवार को पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली और एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के लिए श्रद्धांजलि सभा रखी गयी थी।

इसमे प्रदेश बीजेपी के सभी बड़े नेताओं ने शिरकत की और दिवंगत नेताओं के लिए अपनी अपनी बातें सामने रखीं.इसी कड़ी में जब भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की बारी आई तो उन्होंने बीजेपी नेताओं के निधन पर विपक्ष द्वारा भाजपा के नेताओ पर मारक शक्ति के प्रयोग की आशंका जताई।

सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा, ‘मैं जब चुनाव लड़ रही थी तब एक महाराज जी आए थे, उन्होंने कहा था ये बहुत बुरा समय चल रहा है। आप अपनी साधना को बढ़ा लो। विपक्ष एक मारक शक्ति का प्रयोग आपकी पार्टी और उसके नेताओ के लिए कर रहा है ऐसे में आप सावधान रहें।’

प्रादेशिक

दिल्ली में कोरोना के आए सबसे कम मामले, बीते 24 घंटे में आए 89 केस

Published

on

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार घटते जा रहे हैं। बीते 24 घंटों में यहां सबसे कम कोविड केस सामने आए। ताजा आंकड़ो के मुताबिक बीते 24 घंटे में राज्य में 89 नए मामले सामने आए हैं, जो इस साल एक दिन में रिपोर्ट होने वाले सबसे कम नए मामले हैं।

वहीं संक्रमण से 11 और लोगों की मौत हो गई जबकि 173 लोग स्वस्थ्य हुए। दिल्ली में अब एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 2000 से नीचे आ गई है।

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से आज जारी बुलेटिन के अनुसार बीतें 24 घंटों में 89 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या 14,32,381 तक पहुंच गई जबकि 173 और मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोना मुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 14,05,460 हो गई।

दिल्ली में कोरोना सकारात्मता दर अब 0.16 फीसदी ही रह गई है। वहीं, इस दौरान 11 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 24,925 पर पहुंच गया। राजधानी में मृत्यु दर 1.74 फीसदी पर बनी हुई है। मृतकों के मामले में देशभर में दिल्ली चौथे स्थान पर है

 

Continue Reading

Trending