Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

चीन करेगा नई राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं का निमार्ण

Published

on

Workers test food samples during a DEHP check in the lab of Intertek Testing Services Ltd. in Shanghai, China, 1 June 2011. Chinas top quality watchdog issued a temporary ban on importing food from Taiwan enterprises identified as producing food with an illegal additive. The ban, which took effect on Wednesday (1 June 2011), is the latest response from the General Administration of Quality Supervision, Inspection and Quarantine toward the high-profile Taiwan drink scandal, during which many enterprises have been found producing beverages with DEHP. DEHP, an additive used to make plastic soft and pliable, can affect hormone balances in young people, and has been identified as carrying serious health risks in plastic toys for children.(Imaginechina via AP Images)

बीजिंग। चीनी विज्ञान अकादमी (सीएएस) के अध्यक्ष बाई चुनली ने बताया कि चीन की सरकार व्यापक तौर पर कई राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं के निर्माण करने की योजना बना रही है। बाई ने मंगलवार को राष्ट्रीय प्रयोगशाला प्रबंधन पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के एक उद्धघाटन समारोह में यह बात कही।

इस समारोह में चीन, अमेरिका, जर्मनी, ब्रिटेन, स्वीडन, इटली, जापान और सिंगापुर सहित अन्य देशों के करीब 13 राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं के निदेशक शामिल थे। समारोह में सभी ने राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं के निर्माण के लिए कई अनुभवों को साझा किया।

अपने भाषण में बाई ने कहा कि चीन की सरकार की कई प्राथमिकताएं हैं, जिनमें देश और विदेश से सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं की खोज के लिए राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं का निर्माण करना भी शामिल है।हाल ही के वर्षो में चीन की सरकार ने नवीनता संचालित विकास रणनीति को लागू करने के लिए वैज्ञानिक और तकनीकी प्रणाली में सुधार के लिए कई नीतियां बनाई हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय

तुर्की में आए भूकंप से 18 लोगों की मौत, 200 से ज्यादा घायल

Published

on

नई दिल्ली। तुर्की में शुक्रवार को आए जबरदस्त भूकंप की वजह से 18 लोगों की जान चली गई जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हो गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.7 मापी गई है।

भूकंप के झटके इतने तेज थे कि देखते ही देखते 10 इमारतें जमींदोज हो गए। यह भूकंप इतना तीव्र था कि इसके झटके पड़ोसी मुल्कों इराक, सीरिया और लेबनान में भी महसूस किए गए।

जानकारी के अनुसार भूकंप की वजह से ज्यादा प्रभावित पूर्वी इलाजिग प्रांत हुआ है। भूकंप की वजह से करीब 200 से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं। प्रभावित इलाकों में राहत बचाव अभियान चलाया जा रहा है।

घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। तुर्की में भूकंप के झटकों से मकान हिल गए। इस भूकंप के बाद वजह से कई इमारतों में आग भी लग गई। भूकंप की वजह से पूरे इलाके में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है।

तुर्की में आई इस भीषण तबाही में बड़ी-बड़ी इमारतें मिट्टी में मिल गईं। इन बिल्डिंगों के मलबे में भी कई लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending