Connect with us

मुख्य समाचार

सिख विरोधी दंगों से जुड़ी फाइल गायब, खोजने के आदेश

Published

on

1984 सिख विरोधी दंगों से जुड़ी फाइल गायब, दिल्ली सरकार, फाइल खोजने के लिए सर्कुलर जारी, दंगों की जांच को लेकर एसआईटी का गठन

नई दिल्ली। वर्ष 1984 में सिख विरोधी दंगों की जांच से जुड़ी फाइल गायब हो गई है। दिल्ली सरकार ने फाइल को खोजने के लिए सर्कुलर जारी कर दिया है और संबंधित विभागों को कहा है कि वे इस फाइल को तलाशने में मदद करें। दिल्ली सरकार ने दंगों की जांच को लेकर एसआईटी का गठन किया था। फाइल उसी से जुड़ी हुई है। उधर, फाइल गुम होने के बाद केजरीवाल सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है। ये फाइलें पिछले साल उस वक्त से गायब हैं, जब दिल्ली सरकार के गृह मंत्री जितेंद्र तोमर थे। बाद में फर्जी डिग्री विवाद की वजह से उन्हें मंत्री के पद से हटा दिया गया था।  विपक्ष ने इस मुद्दे पर सवाल उठाते हुए कहा है कि केजरीवाल सिखों पर केवल राजनीति करना चाहते हैं, 84 की फाइलें पिछले 10 महीनो से मिसिंग हैं और उन्हें खबर नहीं है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि केजरीवाल को दादरी और हैदराबाद जाने के लिए वक्त है, लेकिन 10 महीने से गायब फाइल के बारे में पता लगाने का वक्त नहीं है।

दिल्ली सरकार के डेप्युटी सेक्रेटरी (होम) आशीष कुमार ने हाल ही में एक सर्कुलर जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि दिल्ली सरकार द्वारा सिख दंगों की जांच के लिए बनाई गई एसआईटी से जुड़ी फाइल गायब हो गई है। गृह विभाग से गायब फाइल का पिछले साल 16 मार्च के बाद से पता नहीं चला है। जारी किए गए सर्कुलर में संबंधित विभागों से गुजारिश की गई है कि वे इस फाइल को तलाश करें और उसे दिल्ली सरकार के मुख्यालय में स्थित गृह विभाग तक पहुंचा दें।

सूत्रों के अनुसार, गृह विभाग फाइल की लगातार खोज कर रहा था, लेकिन उसके न मिलने और किसी विवाद से बचने के लिए उसे यह सर्कुलर जारी करना पड़ा। इस मसले पर दिल्ली सरकार के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि उन्हें कोई जानकारी नहीं है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरकार बनने के बाद सिख दंगों की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया था और दंगों से जुड़ी सभी फाइलों को एसआईटी जांच में शामिल कर दिया था। इस दौरान सरकार ने दंगों में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपये का मुआवजा भी दिया। सूत्र बताते हैं कि अधिकतर फाइलें गायब हो चुकी हैं।

मनोरंजन

बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप हुई फिल्म पानीपत, कमाई रही महज इतने करोड़

Published

on

मुंबई। अशुतोष गोवारिकर की बड़े बजट की फिल्म पानीपत बॉक्स ऑफिस पर डिजास्टर साबित हो चुकी है। लगभग 100 करोड़ की बजट वाली फिल्म ने अब तक अपनी लागत की आधी की कमाई भी कमाई नहीं कर सकी है। अर्जुन कपूर और संजय दत्त स्टारर इस फिल्म को दर्शकों ने पूरी तरह से रिजेक्ट कर दिया है।

दूसरे रविवार को फिल्म ने 1.48 करोड़ का बिजनेस किया। इसी के साथ फिल्म का कुल कलेक्शन 29.11 करोड़ हो गया है। बता दें कि आशुतोष की इससे पहले रिलीज हुई फिल्म मोहनजोदारो भी बॉक्स ऑफिस पर असफल साबित हुई थी।

लगातार दो बड़े बजट की फिल्म फ्लॉप होना आशुतोष गोवारिकर के लिए किसी झटके से कम नहीं है। वहीं इसके साथ रिलीज हुई फिल्म पति पत्नी और वो बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन कर रही।

कार्तिक आर्यन की इस फिल्म ने आशुतोष गोवारिकर और संजय दत्त जैसे दिग्गजों को मात दे दी है। पति पत्नी और वो ने पहले वीकेंड में 35.92 करोड़ का कलेक्शन किया है।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending