Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

चीन में 6.4 तीव्रता का भूकंप, जानमाल की हानि नहीं

Published

on

मेन्युआन । उत्तर-पश्चिमी चीन के चिंगहई प्रांत में बुधवार देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 6.4 मापी गई। फिलहाल इसमें किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। प्रदेश प्रमुख हुआंग जिछेंग ने कहा कि मेन्युआन के हुई स्वायत्त प्रदेश में बुधवार देर रात 1.13 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप से 54 घरों को नुकसान पहुंचा, जिनमें से 20 की दीवारों में दरारें पड़ गईं। भूकंप का केंद्र प्रदेश से 33 किलोमीटर दूर बताया गया। क्षेत्र में दूरसंचार व यातायात सेवाएं सामान्य बनी हुई हैं।

स्थानीय नागरिक मामलों के अधिकारियों ने कहा कि भूकंप-प्रभावित क्षेत्र में 700 से ज्यादा टेंट भेजे गए हैं। चश्मदीदों का कहना है कि भूकंप से सहमे लोग जान बचाने को घरों से भाग निकले और कड़ाके की ठंड के बावजूद कुछ लोगों ने रात अपनी कारों में बिताईं। क्षेत्र में रात्रि तापमान शून्य से 20 डिग्री सेल्सियस नीचे बना हुआ है।

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना की प्रदेश समिति के प्रमुख डोंग जिनमिंग ने कहा कि प्रदेश के 90 फीसदी कच्चे घरों की मरम्मत कराई गई, जिससे आपदा से बचने में मदद मिली। चाइना अर्थक्वैक नेटवर्क्‍स सेंटर (सीईएनसी) के अनुसार, भूकंप के पहले झटके के चंद मिनटों बाद फिर से झटके महसूस किए गए। मेन्युआन प्रदेश के स्थानीय नागरिक मा वुलान्ग ने फोन पर समाचार एजेंसी को बताया, “भूकंप एक से दो मिनट तक रहा। इस दौरान थरथराने की आवाज हुई। अब सभी बाहर हैं।”

अन्तर्राष्ट्रीय

VIDEO : Nepal PM KP Sharma Oli ने खो दिया मानसिक संतुलन ,नेपाल में ओली के खिलाफ गुस्सा

Published

on

By

यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का भी इस मुद्दे पर बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम का जन्म स्थल व प्रकट स्थल अयोध्या धाम है जो कि सरयू के तट पर है और उत्तर प्रदेश (भारत )में है।

माता सीता का जन्म स्थल व प्रकट स्थल नेपाल में है। केशव प्रसाद ने नेपाल के प्रधानमंत्री के बयान को सभी राम भक्तों की भावनाओं को आहत करने वाला बताया है।

 

#kpsharmaoli #nepal #lordram #india

Continue Reading

Trending