Connect with us

अन्तर्राष्ट्रीय

अफगानिस्तान की मदद के लिए सुरक्षा परिषद का आह्वान

Published

on

संयुक्त राष्ट्र| संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को अफगानिस्तान में स्थिरता लाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग जारी रखने का आह्वान किया। सुरक्षा परिषद ने अफगानिस्तान सेना और पुलिस को अधिक सक्षम बनाने के लिए प्रयास करने का आग्रह किया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, यहां सर्वसम्मति से स्वीकृत एक प्रस्ताव में सुरक्षा परिषद ने अफगानिस्तान में स्थिरता बनाए रखने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग जारी रखने की आवश्यकता और देश में सुरक्षा एवं स्थिरता बनाए रखने के लिए अफगान नेशनल डिफेंस एवं सुरक्षा बलों को अधिक सक्षम और योग्य बनाने पर जोर दिया।

संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) और अफगानिस्तान के बीच 2014 के बाद गैर-लड़ाकू रिजोल्युट सपोर्ट मिशन (आरएसएम) समझौते का स्वागत किया।

प्रस्ताव में अफगानिस्तान में सुरक्षा, शासन और विकास के क्षेत्र में नेतृत्व और स्वामित्व के लिए संयुक्त राष्ट्र के सहयोग की महत्ता पर भी जोर दिया गया और अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र असिसटेंस मिशन को जारी रखने की बात कही गई।

अफगानिस्तान में 13 सालों से तैनात नाटो के नेतृत्व वाली अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा सहायता बल (आईएएफ) का अभियान 2014 में समाप्त हो रहा है।

अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय ने कहा कि अफगानिस्तान की सेना और पुलिस अगले साल एक जनवरी से देश की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी संभालेगी।

अन्तर्राष्ट्रीय

दुनिया पर मंडराने लगा चीनी कैट क्यू वायरस का ख़तरा, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

Published

on

नई दिल्ली। जहां एक ओर पूरी दुनिया कोरोना नामक महामारी से जूझ रही है। अब तक लाखों लोगों की मौत इस वायरस हो चुकी है जबकि करोड़ों लोग इस वायरस से संक्रमित चुके हैं। वहीं, अब एक और चीनी वायरस की खबर से पूरी दुनिया दहशत में है। इसका नाम कैट क्यू वायरस है।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने भारत सरकार को चेतावनी दी है कि चीन का कैट क्यू वायरस यानी भारत में दस्तक दे सकता है। ये वायरस आर्थ्रोपोड-जनित वायरस की श्रेणी में आता है। ये क्यूलेक्स नामक मच्छरों के अलावा सूअर में भी पाया जाता है। खबरों की मानें तो चीन और वियतनाम में बड़े पैमाने पर लोग इस वायरस से ग्रसित पाए गए हैं।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद की रिपोर्ट में कहा गया है कि यह वायरस इंसान में ज्वर की बीमारी मेनिंजाइटिस और बच्चों में इन्सेफलाइटिस की समस्या पैदा करेगा। वैज्ञानिकों ने अपनी चेतावनी में कहा है कि भारत में भी क्यूलेक्स मच्छरों में कैट क्यू वायरस जैसा ही कुछ मिला है। कैट क्यू वायरस मुख्यत सूअरों में ही पाया जाता है और चीन के पालतू सूअरों में इस वायरस के खिलाफ पनपी ऐंटीबॉडीज पाई गई हैं। इसका मतलब है कि कैट क्यू वायरस ने चीन में स्थानीय स्तर पर अपना प्रकोप फैलाना शुरू कर दिया है।

Continue Reading

Trending