Connect with us

बिजनेस

सेंसेक्स में 318 अंकों की गिरावट

Published

on

मुंबई| देश के शेयर बाजारों में बुधवार को गिरावट रही। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 317.72 अंकों की गिरावट के साथ 25,714.66 पर और निफ्टी 88.85 अंकों की गिरावट के साथ 7,791.85 पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 30.89 अंकों की तेजी के साथ 26,063.27 पर खुला और 317.72 अंकों या 1.22 फीसदी गिरावट के साथ 25,714.66 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 26,156.61 के ऊपरी और 25,657.56 के निचले स्तर को छुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 15.45 अंकों की गिरावट के साथ 7,865.25 पर खुला और 88.85 अंकों या 1.13 फीसदी गिरावट के साथ 7,791.85 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 7,930.05 के ऊपरी और 7,777.10 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में मिला-जुला रुख रहा। मिडकैप 83.16 अंकों की गिरावट के साथ 10,477.16 पर और स्मॉलकैप 17.06 अंकों की तेजी के साथ 10,711.73 पर बंद हुआ।

बीएसई के 12 में से दो सेक्टरों बिजली (1.64 फीसदी) और धातु (0.23 फीसदी) में तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे बैंकिंग (1.68 फीसदी), स्वास्थ्य सेवा (1.14 फीसदी), प्रौद्योगिकी (1.04 फीसदी), तेल एवं गैस (0.98 फीसदी) और तेज खपत उपभोक्ता वस्तु (0.96 फीसदी)।

 

नेशनल

दो महीने बाद नए नियमों के साथ देश में हवाई सेवा अब फिर से शुरू

Published

on

By

लॉकडाउन की वजह से देश में रुकी हुई हवाई सेवा अब फिर से चालू हो गई है। दो महीने बाद 25 मई से घरेलू हवाई सेवा शुरू कर दी गई हैं।

25 मई से आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल को छोड़कर पूरे देश में घरेलू विमान सेवा की शुरुआत हो गई है। दिल्ली से सुबह 4:45 पर पुणे के लिए पहली फ्लाइट रवाना भी हो चुकी है।मुंबई एयरपोर्ट से सुबह 6:45 पर पहली फ्लाइट पटना के लिए रवाना हुई।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का हुआ निधन, लंबे समय से दिल्ली के अस्पताल में चल रहा था इलाज

 

ये हवाई सेवाएं करीब दो महीने शुरू हो रही हैं, इसको देखते हुए एयरपोर्ट पर भी खास तैयारियां की गई हैं। एयरपोर्ट पर अब नए नियमों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के नियम लागू किए गए हैं।

एयरपोर्ट पर दो मीटर की दूरी का पालन किया जाना अब ज़रूरी है। इसके अलावा हवाई यात्रा के संबंध में राज्य सरकारों ने अलग-अलग गाइडलाइंस जारी की हैं।

Continue Reading
Advertisement Aaj KI Khabar English

Trending