Connect with us

बिजनेस

शेयर बाजारों में भारी गिरावट, सेंसेक्स 630 अंक नीचे

Published

on

मुंबई,गिरावट,प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स,निफ्टी,बंबई स्टॉक एक्सचेंज,कारोबार,बिजली,रियल्टी

मुंबई | देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को भारी गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 629.82 अंकों की गिरावट के साथ 26,877.48 पर और निफ्टी 198.30 अंकों की गिरावट के साथ 8,126.95 पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 4.39 अंकों की गिरावट के साथ 27,502.91 पर खुला और 629.82 अंकों या 2.29 फीसदी गिरावट के साथ 26,877.48 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 27,502.91 के ऊपरी और 26,837.39 के निचले स्तर को छुआ।

सेंसेक्स के 30 में से मात्र दो शेयरों हीरो मोटोकॉर्प (3.18 फीसदी) और डॉ. रेड्डीज लैब (3.08 फीसदी) में तेजी दर्ज की गई। सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे टाटा स्टील (6.29 फीसदी), भेल (5.07 फीसदी), वीईडीएल (4.98 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (4.59 फीसदी) और टाटा पॉवर (3.64 फीसदी)।
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 0.90 अंकों की तेजी के साथ 8,326.15 पर खुला और 198.30 अंकों या 2.38 फीसदी गिरावट के साथ 8,126.95 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 8,326.15 के ऊपरी और 8,115.30 के निचले स्तर को छुआ।
बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट दर्ज की गई। मिडकैप 179.88 अंकों की गिरावट के साथ 10,274.08 पर और स्मॉलकैप 188.92 अंकों की गिरावट के साथ 10,778.70 पर बंद हुआ।

बीएसई के सभी 12 सेक्टरों में गिरावट दर्ज की गई। रियल्टी (3.30 फीसदी), बिजली (3.12 फीसदी), पूजीगत वस्तुएं (3.10 फीसदी), बैंकिंग (3.09 फीसदी) और धातु (2.97 फीसदी) सेक्टरों में सर्वाधिक गिरावट दर्ज की गई। बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 746 शेयरों में तेजी और 1,962 में गिरावट दर्ज की गई, जबकि 95 शेयरों के भाव में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।

गैजेट्स

चीनी कंपनियों की मांग में भारतीय फोन बाज़ार सबसे आगे, टॉप-5 स्मार्टफोन ब्रांड में 04 चाइना के

Published

on

By

भारत में 2020 की पहली तिमाही यानी जनवरी से मार्च के बीच भारतीय स्मार्टफोन मार्केट में चीनी कंपनियों की हिस्सेदारी 70% से भी ज्यादा है। स्मार्टफोन मार्केट करीब 2 लाख करोड़ रुपए का है।

वहीं अगर देश के टॉप-5 स्मार्टफोन ब्रांड की बात करें, तो इनमें से 04 चीनी कंपनी हैं। 30% मार्केट शेयर श्याओमी का है। दूसरे नंबर पर 17% मार्केट शेयर के साथ वीवो है। टॉप-5 में सिर्फ सैमसंग ही है, है जो चीन की कंपनी नहीं है। ( सैमसंग दक्षिण कोरियाई कंपनी है।

इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कही ये बड़ी बात

इसके अलावा भारतीय ऐप मार्केट में 40% तक हिस्सा सिर्फ चाइनीज ऐप्स का है। चीन की कंपनियां सस्ते स्मार्टफोन भारत में लॉन्च करती हैं और यही लोगों को पसंद भी आते हैं। पिछले साल दिसंबर 2019 तक भारत में 50 करोड़ से ज्यादा लोग स्मार्टफोन प्रयोग कर रहे थे।

Continue Reading

Trending