Connect with us

मनोरंजन

पेशेवर सफलता महत्वपूर्ण : अभिनेता नकुल

Published

on

हाल ही में हिट हुई तमिल फिल्म ‘तमिलुकु एन ओंदराय अझुथवुम’ में नजर आए अभिनेता नकुल एक दशक से अधिक समय से तमिल फिल्मोद्योग का हिस्सा हैं। नकुल का कहना है कि हर कोई पैसे पर ध्यान देने वाला बन गया है, इसलिए अलोचनात्मक सफलता कोई मायने नहीं रखती।
नकुल ने आईएएनएस को बताया, “मुझे नहीं लगता कि आज आलोचनात्मक सफलता मायने रखती है। यह व्यावसायिक सफलता बननी चाहिए। निर्माता खास पैसे के प्रति बहुत सजग हो गए हैं। जब आप इन सभी पर विचार करते हैं, तो आपको लगता है कि यहां बने रहने के लिए एक अच्छी फिल्म की जरूरत है।”

उन्होंने कहा, “जब कोई नया हीरो बाजार में आता है, उसे बॉक्स ऑफिस के व्यापार पर प्रभाव बनाना पड़ता है, अन्यथा यहां बने रहना मुश्किल होता है। हीरो बनना आसान है, लेकिन शीर्ष पर बने रहना बहुत ज्यादा कठिन होता है।”

अपनी नई फिल्म को मिली सफलता को लेकर नकुल ने कहा कि वह 2009 से किसी सफल फिल्म का इंतजार कर रहे थे।

नकुल बताया कि ‘तमिलुकु एना’ उनके लिए परीक्षा की तरह थी और इसकी सफलता ने उन्हें आश्वस्त किया कि वह अपने करियर में सही रास्ते चल रहे हैं। उन्हें एहसास हुआ कि अच्छी पटकथा मिलने तक इंतजार करना सही होता है।

निर्माता शंकर निर्देशित 2003 में आई तमिल फिल्म ‘ब्वायज’ से अभिनय की शुरुआत करने वाले नकुल ने अभी तक सिर्फ आठ फिल्मों में काम किया है।

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि उद्योग में किस्मत ज्यादा काम करती है। लेकिन मैं अपने करियर से खुश हूं। मुझे कोई शिकायत नहीं है।”

उन्हें अपने साथियों की सफलता से ईष्र्या नहीं है।

जब उन्हें कोई ऑफर नहीं मिल रहा था, तो उन्होंने खुद को गायन में व्यस्त रखा।

नकुल की अगली तमिल फिल्म ‘नाराथन’ है।

खेल-कूद

VIDEO : आप भी हैं PUBG प्रेमी, तो देख लें ये Video! अब PUBG को कहना पड़ेगा Bye Bye!

Published

on

By

चीनी सामानों पर प्रतिबंध लगाने की मांग लगातार बढ़ती जा रही है। 59 चीनी मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगने के बाद अब बच्चों से जुड़े चीनी गेमों को भी बन्द करने की मांग उठने लगी है। मंगलवार को सूचना प्रद्योगिकी से जुड़ी संसदीय स्थायी समिति की बैठक में मौजूद सदस्यों ने बच्चों के बीच लोकप्रिय लेकिन विवादित चीनी गेम पबजी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। बैठक का एजेंडा डाटा प्राइवेसी और डाटा सुरक्षा था।

इसके अलावा कुछ सदस्यों ने 59 चीनी मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध के बावजूद देश में इस्तेमाल हो रहे चीनी ऐप पर चिंता जताई। इसमें सबसे प्रमुख तौर पर कैम स्कैनर का ज़िक्र किया गया। कैम स्कैनर मोबाइल पर कागजातों और तस्वीरों को स्कैन करने के काम आता है और 59 प्रतिबंधित मोबाइल एप्स में भी शामिल है।

सदस्यों ने विशेष तौर पर इस बात पर चिंता जताई कि इस ऐप का इस्तेमाल देश का पुलिस प्रशासन भी कर रहा है। सदस्यों की चिंता इस बात पर ज़्यादा थी कि कहीं इस एप के ज़रिए संवेदनशील जानकारी तो नहीं चुराई जा रही।

#BanPUBG #TikTokBanned #ChineseApps #BanChineseApps #BoycottChina #IndiaChinaBorder

Continue Reading

Trending