Connect with us

प्रादेशिक

हाल ही में जेल से छूटे डॉ कफील खान ने संयुक्त राष्ट्र से की यूपी सरकार की शिकायत

Published

on

लखनऊ। हाल ही में जेल से छूटे गोरखपुर के डॉ कफील अहमद ने यूपी सरकार की शिकायत संयुक्त राष्ट्र से की है। जेल से छूटने के बाद डॉ कफील इस समय जयपुर में रह रहे हैं। उन्हें डर है कि यूपी सरकार उन्हें फिर से गिरफ्तार कर सकती है इसलिए उन्होंने राजस्थान की राजधानी जयपुर में शरण ली है। खान ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (UNSRC) को एक पत्र लिखकर “भारत में अंतर्राष्ट्रीय मानव सुरक्षा मानकों के व्यापक उल्लंघन और असहमति की आवाज को दबाने के लिए एनएसए और यूएपीए जैसे सख्त कानूनों के दुरुपयोग किए जाने की बात कही है।”

अपने पत्र में खान ने संयुक्त राष्ट्र के इस निकाय को “शांतिपूर्ण तरीके से सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने” वाले कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किए जाने के बाद उनके मानवाधिकारों की रक्षा करने के लिए भारत सरकार से आग्रह करने के मसले पर धन्यवाद दिया और यह भी कहा कि सरकार ने “उनकी अपील नहीं सुनी।” खान ने लिखा, “मानव अधिकार के रक्षकों के खिलाफ पुलिस शक्तियों का उपयोग करते हुए आतंकवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा कानूनों के तहत आरोप लगाए जा रहे हैं। इससे भारत का गरीब और हाशिए पर रहने वाला समुदाय प्रभावित होगा।”

जेल में बिताए दिनों के बारे में खान ने लिखा, “मुझे मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया और कई दिनों तक भोजन-पानी से भी वंचित रखा गया और क्षमता से अधिक कैदियों वाली मथुरा जेल में 7 महीने की कैद के दौरान मुझसे अमानवीय व्यवहार किया गया। सौभाग्य से, हाई कोर्ट ने मुझ पर लगाए गए एनएसए और 3 एक्सटेंशन को खारिज कर दिया।” इसके अलावा खान ने अपने पत्र में 10 अगस्त, 2017 को गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के कारण कई बच्चों की जान जाने के मामले का भी उल्लेख किया।

प्रादेशिक

हापुड़: कोर्ट ने पेश की नज़ीर, रेप के दोषी को महज 22 दिन की सुनवाई में दी सजा

Published

on

हापुड़। हापुड़ में 6 साल की बच्ची के साथ रेप और अपहरण के दोषी को 22 दिन में सजा सुनाकर कोर्ट ने नजीर पेश की है। कोर्ट ने दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाने के साथ ही 2 लाख रु का जुर्मना भी लगाया है। पांच दिन पहले दो दुष्कर्मियों को फांसी की सजा सुनाने वाली जिला एवं सत्र न्यायाधीश/विशेष न्यायाधीश(पाक्सो) वीना नारायण ने यह निर्णय दिया है।

मामला हापुड़ के थाना गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र का है जहां एक शख्स ने छह साल के बच्ची का अपहरण कर उसके साथ रेप किया था। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया था।

सोमवार को इस मुकदमे की सुनवाई करते हुए अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/विशेष न्यायाधीश (पोक्सो अधिनियम) वीना नारायण ने दलपत सिंह को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई है।

पुलिस ने इस मामले में 31 अगस्त को आरोपी के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया। जिसके बाद सभी गवाहों के बयान दर्ज किए गए। सोमवार को अदालत ने महज 22 कार्य दिवस में सुनवाई पूरी कर एक नजीर पेश की है।

Continue Reading

Trending