Connect with us

प्रादेशिक

अकेले 3 किलोमीटर लंबी नहर खोदने वाले शख्स को आनंद महिंद्रा ने गिफ्ट में दिया ट्रैक्टर

Published

on

नई दिल्ली। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। वह सोशल मीडिया पर अपना अलग टैलेंट दिखा रहे लोगों और जरूतमंदों की मदद करते रहते हैं। अब आनंद महिंद्रा गया के लहथुआ इलाके में अपने खेतों के पास अकेले तीन किमी लंबी नहर बनाने वाले लौंगी भुइयां की मेहनत पर मेहरबान हुए हैं। आनंद महिंद्रा ने लुंगी भुइयां के इस काम के लिए महिंद्रा ट्रैक्टर ईनाम में देने का फैसला किया है।

आनंद महिंद्रा ने लुंगी भुइयां की मदद करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। किसान के लिए मदद की मांग करते हुए एक ट्वीट के जवाब में आनंद महिंद्रा ने लिखा, “जैसा कि आप जानते हैं, मैंने ट्वीट किया था कि मुझे लगता है कि उनकी नहर ताज या पिरामिडों के समान प्रभावशाली है। हम @MahindraRise पर इसे एक सम्मान मानते हैं। हम उन्हें ट्रैक्टर भेंट करना चाहते हैं। उन तक किस तरह पहुंचा जाए।

उन्होंने ट्विटर पर भुइयां के मेंसेंजर से महिंद्रा टीम के साथ पहुंचकर ट्रैक्टर को किसान तक पहुंचाने के लिए कहा। जिसके बड़ा उन तक ट्रैक्टर पहुंचा दिया गया।

प्रादेशिक

महिला ने प्रेमी के लिए करा दी सीधे सादे शिक्षक पति की हत्या, जीती थी लग्जीरियस लाइफ

Published

on

बरेली। यूपी के बरेली में एक महिला ने अपने प्रेमी के लिए शिक्षक पति की हत्या करा दी। महिला ने इसके लिए भाड़े के हत्यारों को पांच लाख रु दिए थे। पुलिस ने हत्यारों को गिरफ्तार किया तो मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर फिरोजाबाद में थाना क्षेत्र नारखी में एक गांव से गन्ने के खेत से अवधेश का शव बरामद किया है।

जिला फिरोजाबाद के थाना नारखी क्षेत्र के गांव खेरिया निवासी अवधेश सिंह थाना शीशगढ़ के गांव सहोड़ा के कुंवर ढांकन लाल इंटर कॉलेज में टीचर थे। 12 अक्टूबर की शाम को अवधेश ने अपनी मां अन्नपूर्णा से फोन पर अपनी जान का खतरा बताया था। इसके बाद से शिक्षक का मोबाइल बंद हो गया। मां ने कई बार बेटे को मोबाइल पर फोन किया लेकिन फोन लगातार स्विच आफ बता रहा था। इसके बाद जब वो बेटे के घर पहुंची तो वहां ताला लगा हुआ था। किसी अनहोनी की आशंका में उन्होंने पुलिस में बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) मुकेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि बरेली के एक इंटर कॉलेज में प्राध्यापक के पर पर तैनात अवधेश की गुमशुदगी की रिपोर्ट पिछली 16 अक्टूबर को दर्ज कराई गई थी। वह मूल रूप से फिरोजाबाद के नारखी क्षेत्र भीतरी गांव के रहने वाले थे।

मिश्रा ने बताया कि फिरोजाबाद पुलिस ने चोरी के मामले में एक हिस्ट्रीशीटर शेर सिंह को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने बताया कि अवधेश की पत्नी विनीता ने उसकी हत्या के लिए उसे पांच लाख रुपये दिए थे। सिंह के मुताबिक वह अवधेश की हत्या कर शव को अपने साथियों पप्पू, भोला, अंकित और प्रदीप की मदद से गाड़ी से बरेली से फिरोजाबाद लाया और उसे जलाकर खेत में बने गड्ढे में दबा दिया। फिलहाल आरोपियों की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं। आगरा में महिला के कथित प्रेमी से भी पूछताछ की जाएगी। उसे ट्रेस किया जा रहा है।

Continue Reading

Trending