Connect with us

प्रादेशिक

जयपुर में एक ही परिवार के चार लोगों ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Published

on

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में बुराड़ी जैसा मामला सामने आया है। यहां एक ही परिवार के कगार लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सभी के शव पंखे से लटकते हुए मिले। मरने वालों में माता-पिता और दो बच्चों शामिल हैं।

मृतकों की पहचान यशवंत सोनी (47) ममता सोनी (40), भरत सोनी (17), अजित सोनी (20) के रूप में हुई। रिश्तेदारों ने पुलिस को बताया कि परिवार ने यह कदम आर्थिक तंगी के चलते उठाया है।

एडिशनल एसपी मनोज चौधरी ने कहा कि मृतक परिवार ज्वैलरी के कारोबार से जुड़ा हुआ था और कर्ज से परेशान था। उन्होंने कुछ लोगों से ब्याज पर पैसे उधार लिया था, जो उनपर दबाव बना रहे थे।

चौधरी ने बताया कि सोनी के घर से एक सुसाइड नोट बरामद किया गया है जिसमें सोनी ने कहा कि वह आर्थिक मुद्दो के कारण परेशान था। उन्होंने बताया कि सोनी और उसके दोनो लडके मकान के हॉल के पंखों से लटकते पाये गये जबकि सोनी की पत्नि ममता (40) उनके कमरे में लटकी पायी गई। उन्होंने बताया कि महिला की आंखों पर पट्टी थी जबकि दोनो बेटों के पांव बंधें हुये थे।

प्रादेशिक

मुंगेर गोलीकांड पर भड़के तेजस्वी, नीतीश से पूछा- पुलिस को जनरल डायर बनने को किसने कहा

Published

on

नई दिल्ली। बिहार के मुंगेर में मूर्ति विसर्जन करने जा रहे लोगों पर फायरिंग का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पुलिस की फायरिंग में एक शख्स की मौत हो गई थी। इस मामले पर राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री जो राज्य के गृह मंत्री भी हैं वो क्या कर रहे थे। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इस मामले में ट्वीट के अलावा क्या किया। आखिर किसने पुलिस को जनरल डायर बनने की अनुमति दी।

तेजस्वी ने कहा कि ‘वीडियो में आपने देखा होगा कि लोगों को ढूंढकर और बिठाकार पीटा जा रहा है। हमारी संवेदना उस परिवार के साथ है, जिन्होंने अपना चिराग खोया है लेकिन सवाल यह है कि इस घटना में पूरी तरीके से बिहार की डबल इंजन की सरकार की भूमिक रही है और जनरल डायर बनने की अनुमति किसने दी?’

तेजस्वी ने इस घटना की हाईकोर्ट की निगरानी में उच्चस्तरीय जांच कराने और दोषियों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग भी उठाई। तेजस्वी ने कहा कि ‘खासतौर पर वहां के जो डीएम और एसपी हैं, उनको तुरंत वहां से हटाना चाहिए। आपको पता होगा कि वहां पुलिस महकमे में, जिसकी वहां जिम्मेदारी हैं, वो जेडीयू नेता की बेटी हैं। मैं नाम नहीं लेना चाहता हूं। लेकिन ये जनरल डायर बनने का आदेश कहीं न कहीं से जरूर गया है।

Continue Reading

Trending