Connect with us

प्रादेशिक

लखनऊ में मां और भाई की हत्या करने वाली नाबालिग को मिली घर पर रहने की अनुमति

Published

on

लखनऊ। लखनऊ के गौतमपल्ली में अपनी मां और बेटी की हत्या करने वाली नाबालिग लड़की को घर पर रहने की अनुमति मिल गई है। वह अपने पिता के साथ घर पर आ गई है। पुलिस ने कहा कि अदालत ने कहा कि उसे हिरासत अवधि के दौरान केजीएमयू में मेडिकल निगरानी में रखा जाएगा। लड़की के पिता ने एक प्रार्थना पत्र देकर अनुरोध किया था कि हिरासत में रहने के दौरान उसे घर में रहने दिया जा सकता है क्योंकि वह मानसिक रूप से परेशान है और उसे उसे भावनात्मक सहारे की जरूरत है।

पुलिस अधिकारी ने कहा, परिणामस्वरूप हिरासत की मांग के दौरान, हमने मजिस्ट्रेट को यह भी बताया कि चूंकि मामला दुर्लभतम श्रेणी में आता है, इसलिए अदालत द्वारा मानवीय आधार पर पिता के अनुरोध पर विचार करने पर पुलिस को कोई आपत्ति नहीं है। बाल मनोचिकित्सक द्वारा जांच के लिए लड़की को केजीएमयू भी ले जाया गया।

गौरतलब है कि लड़की ने कथित तौर पर .22 बोर की पिस्तौल से अपनी 47 वर्षीय मां और 17 वर्षीय भाई को उस समय गोली मार दी थी, जब वे सो रहे थे, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना शनिवार को हुई थी।

#lucknow #doublemurder #police

प्रादेशिक

रायबरेली: पॉक्सो कोर्ट ने मासूम की रेप के बाद हत्या के दोषी को दी फांसी की सजा

Published

on

रायबरेली। उत्तर प्रदेश के रायबरेली में डेढ़ साल की बच्ची से रेप और हत्या के दोषी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। दरिंदे ने बच्ची से रेप के बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी और शव को गांव के पास एक ट्यूबवेल के बगल में बने गड्ढे में छिपा दिया था। घटना एक तिलक समारोह के दौरान हुई थी जिसमे बच्ची भी गई थी।

रात में जब काफी देर तक बच्ची का पता नहीं चला तो उसके पिता ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी। बाद में पुलिस ने एक गड्ढे से बच्ची का शव बरामद किया। मासूम के शव का पोस्टमार्टम हुआ तो दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई। जिसके बाद पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

जिला एवं सत्र न्‍यायालय के विशेष न्‍यायाधीश (पाक्‍सो कानून) ने शुक्रवार को यह फैसला सुनाया। अदालत ने अभियुक्त को कुल दो लाख बीस हजार रुपये के अर्थदंड के साथ मृत्‍युदंड की सजा सुनायी। अदालत ने जुर्माने की आधी रकम एक लाख 10 हजार रुपये पीड़िता के पिता को देने का आदेश दिया है।

सरकारी अधिवक्‍ता के मुताबिक, दो मई 2014 को डेढ़ वर्ष की मासूम बच्‍ची की दुष्‍कर्म के बाद गला दबाकर हत्‍या कर दी गई थी। इस सिलसिले में रायबरेली जिले के सलोन थाने में अगले दिन मुकदमा दर्ज कराया गया था। जिसके बाद पुलिस ने बच्ची के शव को बरामद करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।

 

Continue Reading

Trending