Connect with us

प्रादेशिक

बाराबंकी में दिल दहला देने वाली वारदात आई सामने, पत्नी व तीन बच्चों की हत्या कर शख्स ने किया सुसाइड

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक दिल दहला देने वाला मामा सामने आया है। यहां के सफेदाबाद गांव में शुक्रवार को एक ही परिवार के पांच लोगों ने आत्महत्या कर ली।

इनमें पति-पत्नी और तीन बच्चे शामिल हैं। आशंका जताई जा रही है कि दंपति ने पहले तीनों बच्चों को मार डाला और फिर दोनों ने खुद को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

इस घटना से पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया है। मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच-पड़ताल शुरू की। मौके पर पुलिस-प्रशासन के आलाधिकारी पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू की।

जानकारी के मुताबिक मृतक विवेक शुक्ला तीन भाइयों में बीच का भाई था और उसने अनामिका नाम की लड़की से लव मैरिज की थी। उनकी दो लड़कियां रितु शुक्ला (7 वर्ष), पोयम शुक्ला (10 वर्ष) और एक लड़का बबल शुक्ला (5 वर्ष) थे। घरवालों से जानकारी मिली कि विवेक शुक्ला अरने परिवार से अलग रहता था।

वह पहले मोबाइल का काम करता था, बाद में उसने गैराज का काम शुरू किया। परिजनों के मुताबिक बाहर वालों से सुनाई पड़ा था कि विवेक पर कुछ कर्जा था और उसी से वह परेशान रहता था।

मृतक के भाई ने बताया कि शादी के बाद से हमारा उससे कोई मतलब नहीं था। वह अपने परिवार के साथ अलग रह रहा था। आज अचानक जब हम लोगों को कमरे से कुछ आहट नहीं मिली तो मां ऊपर देखने गईं।

उन्होंने देखा कि मेरा भाई फांसी से लटक रहा था। जिसपर मैंने आकर दरवाजा तोड़ा और भाई को लटकता देख बाहर भाग आया। उसके बाद हमने अपने पूरे परिवार और पुलिस को इस बात की जानकारी दी।

भाई ने बताया कि मृतक पहले मोबाइल का काम करता था बाद में अपना गैराज का काम शुरू किया। इस समय वह क्या कर रहा था, इसका अंदाजा नहीं है। क्योंकि हम लोगों में बिलकुल भी पटती नहीं थी। भाई ने बताया कि बाहर के लोगों से सुना था कि उसपर कुछ कर्जा था, जिससे वह परेशान चल रहा था।

 

प्रादेशिक

विकास दुबे की गिरफ्तारी पर मां बोलीं सरला देवी, अब सरकार को जो करना है करेगी

Published

on

कानपुर। कानपुर में आठ पुलिस वालों के हत्यारे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसकी गिरफ्तारी उज्जैन के महाकाल मंदिर से हुई है। इस इस मामले पर विकास दुबे की मां सरला देवी का कहना है कि भोले बाबा ने मेरे बेटे की जान बचाई है। अब सरकार को जो करना है वो करेगी। मेरे कहने से कुछ नहीं होगा।

विकास की मां ने कहा कि वह हर साल उज्जैन के महाकाल मंदिर में जाकर भगवान के दर्शन करता था और उनका श्रृंगार करवाता था। उन्होंने कहा कि भोले बाबा ने ही आज मेरे बेटे की जान बचाई है। सरला देवी ने कहा कि टीवी से उन्हें विकास की गिरफ्तारी की जानकारी मिली। अब सरकार जो करना चाहती है करे। सरकार बहुत बड़ी है। हमें नहीं पता क्या करना चाहिए।

वहीँ, यूपी के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार से जब पूछा गया कि क्या यह उप्र पुलिस और मध्य प्रदेश पुलिस का संयुक्त अभियान था तो उन्होंने जवाब दिया कि नही वहां हमारी टीम मौजूद नही थी। अधिकारी ने कहा कि कानपुर से जांच अधिकारी और पुलिस टीम शीघ्र ही दुबे को लाने के लिए उज्जैन पहुंचेगी।

Continue Reading

Trending